प्रज्ञा हमेशा चाकू लेकर घूमती थी, एक शख्स को चाकू भी मार चुकी है : छत्तीसगढ़ सीएम

प्रज्ञा हमेशा चाकू लेकर घूमती थी, एक शख्स को चाकू भी मार चुकी है : छत्तीसगढ़ सीएम

जबलपुर (मप्र) : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को दावा किया कि मालेगांव विस्फोट के आरोपी और भोपाल लोकसभा सीट के भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने 2001 में एक व्यक्ति को चाकू मार दिया था। कांग्रेस नेता ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ठाकुर का आचरण एक ‘साध्वी’ का नहीं है। “प्रज्ञा ठाकुर का हमारे छत्तीसगढ़ से नाता है। बघेल (बलौदाबाजार जिले में) के एक गोदाम में उसके साले ने काम किया, ”बघेल ने कहा, जब उनसे पूछा गया कि क्या भाजपा हिंदुत्व कार्ड’ खेल रही है।

बघेल ने कहा, “उसने चाकू चलाया और शैलेंद्र देवगन नाम के एक युवक को 2001 में बिलाईगढ़ में सीने में चाकू से वार किया।” प्रज्ञा भी झगड़े में लिप्त रहती थी। शुरुआत से ही उसका आचरण एक आदतन अपराधी की तरह था न की एक साध्वी की”। ठाकुर फिलहाल जमानत पर बाहर हैं।

भाजपा के प्रवक्ता ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को ” समझदारी ” चाहिए। “बघेल जी को समझदारी से बात करनी चाहिए और किसी भी बयान को सबूत बनाने से बचना चाहिए। मध्य प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता हितेश बाजपेई ने कहा कि उन्हें साध्वी जी के खिलाफ अपनी अपमानजनक टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए या हमारे खिलाफ मानहानि का मुकदमा चलाने के लिए तैयार रहना चाहिए।

29 सितंबर, 2008 को उत्तर महाराष्ट्र के नासिक जिले के सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील कपड़ा शहर मालेगाँव में एक बम विस्फोट में छह लोगों की मौत हो गई और 100 से अधिक घायल हो गए। महाराष्ट्र के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने इस मामले में ठाकुर और अन्य को गिरफ्तार किया। एक हिंदू चरमपंथी समूह ने विस्फोट को अंजाम दिया।

एनआईए ने बाद में ठाकुर को क्लीन चिट दे दी, लेकिन मुंबई की ट्रायल कोर्ट ने उन्हें डिस्चार्ज नहीं किया। वह गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत मुकदमे का सामना कर रही है।

‘उनका आचरण आदतन अपराधी का था’
वह चाकू लेकर घूमती थी और 2001 में बिलाईगढ़ में चाकू से शैलेंद्र देवगन नाम के युवक पर चाकू से वार की थी। प्रज्ञा भी झगड़े में लिप्त रहती थी और शुरुआत से ही उसका आचरण एक आदतन अपराधी की तरह था न की एक साध्वी की।
– भूपेश बघेल, छत्तीसगढ़ सीएम

Top Stories