Thursday , June 21 2018

प्रभु की रेल: रेलवे की लापरवाही ने ली नवजात की जान

बरौनी: बिहार के बरौनी में एक नवजात बच्चे की मौत उस वक़्त हो गई जब उन्हें इलाज की सख्त जरुरत थी. दरअसल आनंद बिहार से गुवाहटी जा रही नार्थईस्ट एक्सप्रेस ट्रेन में बच्चे का जन्म हुआ. ट्रेन की लेट लतीफी के कारण बच्चे को अपनी जान गंवानी पड़ी.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्रदेश 18 के अनुसार, आनंद बिहार से गुवाहाटी जा रही ट्रेन में कश्मीरा खातून नामक महिला को पटना से सटे पाटलिपुत्रा स्टेशन के पास ही लेबर पेन शुरू हो गया. इसकी जानकरी 8 बजे सुबह रेलवे को मिल चुकी थी बावजूद इसके रेलवे ने कोई तवज्जह नहीं दिया. जिसकी वजह से कश्मीरा ने शाहपुर पटोरी स्टेशन के आसपास चलती ट्रेन में ही बच्चे को जन्म दिया. उस वक़्त शिशु को सख्त इलाज की जरुरत थी लेकिन ट्रेन की लेट लतीफी के कारण बच्चे को अपनी जान गंवानी पड़ी.
आप को बता दूं कि ट्रेन बरौनी स्टेशन पर 10.30 बजे पहुंची. बच्चे की स्थिति अत्यंत नाजुक देखते हुए सहयात्री आनन् फानन में उन्हें बरौनी में चकित्सक के पास ले गए. चिकित्सक ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया. जबकि डाक्टरों ने रेलवे के मेमो पंजी पर यह स्पष्ट कर दिया कि अगर ट्रेन सही समय पर पहुंचती तो बच्चे की जान बच सकती थी. यह रेलवे की लापरवाही का नतीजा है.

बीजेपी सरकार के लम्बे चौड़े विकास के दावे का यह हाल देखने को मिला कि रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था और रेल यात्रियों को दी जाने वाली सहूलियत का असली चेहरा सामने आगया. इसी से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि बिहार में प्रभु के कार्यकाल में रेल की स्थिति कितनी बद से बदतर है.

TOPPOPULARRECENT