Friday , December 15 2017

प्रमोशन के लिए अफसरों को सौंप दी अपनी बीवी

भोपाल में अपेक्स बैंक के एक फोर्थ ग्रेड के मुलाज़िम ने प्रमोशन की खातिर अफसरों को अपनी बीवी की आबरू लुटाने का मामला सामने आया है। यह सिलसिला बहुत दिनो से चल रहा था। खातून ने परेशान होकर जुमे के दिन पुलिस की पनाह ले ली। शायद यह पहल

भोपाल में अपेक्स बैंक के एक फोर्थ ग्रेड के मुलाज़िम ने प्रमोशन की खातिर अफसरों को अपनी बीवी की आबरू लुटाने का मामला सामने आया है। यह सिलसिला बहुत दिनो से चल रहा था। खातून ने परेशान होकर जुमे के दिन पुलिस की पनाह ले ली। शायद यह पहला मामला है, जिसमें किसी मुलाज़िम ने प्रमोशन की खातिर बीवी को दांव पर लगा दिया।

हबीबगंज थाना इंचार्ज जीपी अग्रवाल ने बताया कि अपेक्स बैंक कॉलोनी की एक खातून की शिकायत पर उसके शौहर समेत 7 लोगों के खिलाफ जुमे की रात रात (76डी, 115) का मामला दर्ज किया गया।

खरगौन की रहने वाली खातून का कहना है कि उसका शौहर अपेक्स बैंक खरगोन में चपरासी था। उसकी साल 2000 में शादी हुई और वे दोनों खरगोन में रहने लगे। कुछ दिनो बाद शौहर ने मारपीट शुरू कर दी। वह अपने दोस्त निर्मल चौरे व योगेश पटेल के साथ इज्तिमायी तौर ज्यादती करने लगे। वे नशीली दवा खिलाकर ऐसा करता थे। इस तरह जिंसी इस्तेहसाल का सिलसिला 12 साल से चल रहा था।

साल 2012 में शौहर ने उसे अपेक्स बैंक के कानूनी सलाहकार ओम पाटीदार और उसके असीस्टेंट शिवपाल सिंह चौहान, सुनील सिंहल, अजय सिसौदिया के सामने पेश कर दिया। वह अपना प्रमोशन चाहता था। ओम ने शौहर का प्रमोशन कराकर उसे लिपिक बनवा दिया। साथ ही, अपेक्स बैंक कॉलोनी में घर दिला दिया। इसके बाद तो वे लगातार ज़ियादती करने लगे। मुखालिफत करने पर शौहर मारपीट करता था। जिससे खातून तंग आ चुकी थी।

मुतास्सिरा खातून ने पुलिस को बताया कि उसके दो बच्चे हैं। बड़ी बेटी 13 साल और बेटा 10 साल का है। खातून को डर है कि उसके जिस्म से खेलने वालो ने कहीं उसके बच्चों के साथ भी घिनौनी हरकत तो नहीं की। उसने इसकी मेडिकल जांच कराने की मांग की है।

हबीबगंज टीआई अग्रवाल ने बताया कि पुलिस ने मुतास्सिरा खातून के शौहर समेत 7 लोगों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज किया है। मुल्ज़िमों में सुनील सिंहल, ओम पाटीदार, निर्मल चौरे, योगेश पटेल, अजय सिसौदिया, शिवपाल सिंह चौहान शामिल है। जिनके खिलाफ दफआत 376 डी, 115 लगाई गई है।

TOPPOPULARRECENT