प्रियंका गांधी को मोदी के खिलाफ़ उतारने से पहले सर्वे करवा रही हैं कांग्रेस?

प्रियंका गांधी को मोदी के खिलाफ़ उतारने से पहले सर्वे करवा रही हैं कांग्रेस?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ वाराणसी सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का चुनाव लड़ने की खबरों को बल मिलने लगा है। इसका मुख्य कारण यह है कि वाराणसी सीट से अभी तक कांग्रेस ने उम्मीदवार नहीं उतार है। कांग्रेस कार्यकर्ता प्रियंका से चुनाव लड़ने की मांग भी कर रहे हैं।

प्रियंका खुद भी चुनाव प्रचार के दौरान वाराणसी सीट से लड़ने के संकेत दे चुकी हैं। हालांकि प्रियंका की उम्मीदवारी पर अभी तक कोई निर्णय नहीं हो सका है। कांग्रेस पार्टी वाराणसी में आंतरिक सर्वे करवा रही है। इस सर्वे के बाद ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के उम्मीदवारी का निर्णय होगा।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, कांग्रेस महासचिव की उम्मदवारी पर फैसला पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ही करेंगे। उत्तर प्रदेश कांग्रेस का एक वर्ग बड़ा यह बात मानता है कि अगर प्रियंका गांधी वाराणसी या फूलपुर सीट से चुनाव लड़ती है तो इसका सकारात्मक प्रभाव पूर्वांचल की सभी सीटों पर पड़ेगा।

आपको बताते जाए कि वर्ष 1991 के बाद से बनारस भाजपा का गढ़ रहा है, केवल एक बार 2004 में यहां से कांग्रेस के राजेश कुमार मिश्रा विजयी हुए थे। वर्ष 2014 के लोकसभ चुनाव में यहां करीब 9 लाख वोट पड़े थे, जिसमें मोदी ने 56% यानि पांच लाख अस्सी हजार वोट मिले थे।

केजरीवाल को केवल 20% वोट यानि करीब 2 लाख वोट मिले थे। अगर प्रियंका यहां सपा- बसपा गठबंधन के सहयोग से वो पीएम मोदी को कड़ी टक्कर दे सकती है।

प्रियंका गांधी के पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद से माना जा रहा है उनके आने से यूपी में वर्षो से सुस्त पड़ी कांग्रेस में नयी राजनीतिक ऊर्जा का संचार हुआ है। जिसका असर सूबे में लोकसभा सीटों के परिणाम पर पड़ सकता है।

Top Stories