Saturday , November 25 2017
Home / World / प्लेबॉय ने छापा ‘हिज़ाबी’ पत्रकार की तस्वीर, शुरू हुआ विवाद

प्लेबॉय ने छापा ‘हिज़ाबी’ पत्रकार की तस्वीर, शुरू हुआ विवाद

1452032964-11034285-708194792625144-5250451148361872526-n

न्यूड और बोल्ड तस्वीरों के लिए मशहूर अमेरिकी मैगजीन प्लेबॉय ने अपने अक्टूबर अंक में हिजाब पहनी महिला की तस्वीर छापी है। तस्वीर आने के बाद विवाद शुरू हो गया है। हिजाब पहनी महिला एक अमेरिकी मुस्लिम पत्रकार है और उनका नाम नूर तागुरी है। प्लेबॉय के प्रकाशकों ने पिछले साल यह निर्णय लिया था कि अब वह बोल्ड फोटो छापने की परंपरा से बाहर निकलेंगे। अक्टूबर के रीनीगेड्स अंक में नजर आ रही नूर तागुरी की उम्र 22 साल है और वो नेव्‍सी के एक वीडियों न्‍यूज नेटवर्क में पत्रकार के रूप में काम करती हैं।

तागुरी लीबियाई मूल की हैं और उनका कहना है कि वो अमेरिकी टीवी चैनल्‍स पर पहली हिजाब एंकर के रूप में आना चाहती हैं। वो कहती हैं कि एक मुस्लिम महिला के तौर पर अमेरिका में बड़ा होना उनके आगे बढ़ने में काफी मददगार रहा। उनका कहना है कि मुझे पता है मुस्लिम कम्युनिटी की छवि मीडिया में तोड़-मरोड़कर और एक्‍सप्‍लॉइट करके दिखाया जाता है। हां, मुझे पता है कि मीडिया में ग़लत समझा जाना कैसा लगता है। मैं यह अपने लिए नहीं कर रही हूं। बल्कि बस आपकी कहानी बताना चाहती हूं। क्‍योंकि यह महत्‍वपूर्ण है और उसे न्‍याय मिलना चाहिए।

2012 में तागुरी ने सोशल मीडिया पर #LetNoorShine नाम से एक कैम्‍पेंन शुरू किया था। उससे उन्‍हें काफी पहचान मिली। आज सोशल मीडिया पर उनके एक लाख से अधिक फॉलोवर्स हैं। प्‍लेबॉय पत्रिका में तस्‍वीर छपने के बाद कई लोगों ने तागुरी की सरहना की है, तो वहीं कुछ लोगों ने उसका विरोध भी किया है। एक ऑनलाइन वेबसाइट ‘द मुस्लिम वाइब’ ने लिखा है कि प्‍लेबॉय पॉर्नोग्राफी का पर्याय है। यह दशकों से महिलाओं को एक वस्‍तु के रूप में बेचता आया है। वेबसाइट का मानना है कि प्लेबॉय अपनी छवि सिर्फ इसलिए सुधारना चाहता है ताकि हम उनके साथ हो जाएं। यह सही नहीं है।

TOPPOPULARRECENT