Tuesday , December 12 2017

फतेहगढ़ ज़िला जेल के कैदी बने बाहुबली, DM समेंत आधा दर्जन घायल, जेल प्रशासन पर लगा अवैध वसूली और उत्पीड़न का आरोप

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के फर्रूखाबाद जेल में उग्र कैदियों ने बवाल मचा दिया है और जिला प्रशासन समेंत जेल प्रशासन कैदियों पर नियंत्रण पाने में एढ़ी चोटी का बल लगा रहे है लेकिन कैदियों ने जेल प्रशासन नाको चने चबाने पर मजबूर ​कर दिया है। फतेहगढ़ जिला जेल पर कैदियों ने कब्ज़ा कर लिया और दो बंदीरक्षकों को भी बंधक बना लिया है। कैदियों ने आगजीनी भी की, लेकिन आक्रोशित कैदियों के उग्र स्वरूप को देखकर जेल प्रशासन के हा​थ पांव फूलने लगे और कोई भी अधिकारी इनसे बात करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा। कैदियों को समझाने के लिए कई दिग्गज सामने आए लेकिन सारे पैतरे धरे के धरे रह गए। कैदियों से सार्थक बातचीत करने के प्रयास में प्रभारी जिलाधिकारी एनपी पांडेय, जेल अधीक्षक आरके वर्मा, फतेहगढ़ कोतवाली प्रभारी अनुज निगम व एक बंदीरक्षक संतोष कुमार घायल हो गए हैं। वहीं एक बंदीरक्षक राजेश भी पोल पर चढ़ने के प्रयास में गिरने से घायल हो गया है। इन सभी घायलों को लोहिया अस्पताल भेजा गया है।
कैदियों के आगजनी की सूचना मिलने पर प्रभारी जिलाधिकारी सीडीओ एनपी पांडेय के तथा पुलिस अधीक्षक विभिन्न थानों की फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। नवभारत टाईम्स के मुताबिक कैदी अभी भी जेल में पथराव कर रहे हैं। कैदियों से वार्ता का प्रयास कर रहे जेल अधीक्षक आरके वर्मा के सिर में चोट आई है और वह गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इसके बाद प्रभारी जिलाधिकारी एनपी पांडये और एक बंदीरक्षक संतोष कुमार व फतेहगढ़ कोतवाल भी घायल हो गए हैं। कैदियों का आरोप है जेल प्रशासन अवैध वसूली और उत्पीड़न करता है इसके लिए वो अपनी मीडिया के सामने रखने की मांग कर रहे थे लेकिन जेल प्रशासन ने उनकी बात नहीं मानी और मामला अनियंत्रत हो गया।

TOPPOPULARRECENT