Thursday , December 14 2017

फर्जी चिट-फंड कंपनी का इंकिशाफ

फर्जी चिट-फंड कंपनी के नाम पर लाखों रुपये ठगी का मामला उजागर हुआ है। ठगी के शिकार इमामगंज मोहल्ले के लोगों ने बुध को कंपनी के मैनेजर रंजीत कुमार शर्मा को बनारस बैंक चौक वाकेय आग बुझाने के दफ्तर के पास धर दबोचा। मौके पर ही पिटाई के ब

फर्जी चिट-फंड कंपनी के नाम पर लाखों रुपये ठगी का मामला उजागर हुआ है। ठगी के शिकार इमामगंज मोहल्ले के लोगों ने बुध को कंपनी के मैनेजर रंजीत कुमार शर्मा को बनारस बैंक चौक वाकेय आग बुझाने के दफ्तर के पास धर दबोचा। मौके पर ही पिटाई के बाद उसे शहर पुलिस के हवाले कर दिया। उसके और एजेंट रवि के खिलाफ दर्जनों लोगों ने शहर थाना में सनाह दर्ज कराने के लिए दरख्वास्त दिया है। पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, एनवीडी सोलर संचय प्राइवेट लिमिटेड कोलकाता की चिट-फंड कंपनी है। उसका दफ्तर काजीमोहम्मदपुर थाना इलाक़े के पंखा टोली में रंजीत कुमार शर्मा के घर पर चल रहा था। रंजीत उस कंपनी में मैनेजर के ओहदे पर दफ्तर था। उस कंपनी का एजेंट रवि कुमार बनारस बैंक चौक का रहने वाला है। रवि ने एक साल साबिक़ इमामगंज मोहल्ले के लोगों को बहला-फुसला कर कंपनी में पैसा जमा करने को कहा था। उसकी बातों में आकर इमामगंज की आलम आरा, रोशन, नासरीन समेत दो दर्जन लोगों ने उस कंपनी में रेकरिंग खाता खोला।

खाता खोलने के वक़्त लोगों को लालच दिया गया था कि मासिक पैसा जमा करने पर सूद भी दिया जायेगा। यहीं नहीं, एफडी करने पर पांच साल में पैसा डबल हो जायेगा। बेहतर स्कीम जान कर कई लोगों ने अपनी मेहनत की कमाई चिट-फंड कंपनी में जमा कर दी। दो दर्जन से ज़्यादा लोगों ने कंपनी में साढ़े तीन लाख रुपये जाम किये। इसके बाद कंपनी के कर्मचारी फरार हो गये। एजेंट रवि से पूछने पर वह कहता था कि कोलकाता की यह कंपनी बंद हो चुकी है। इमामगंज के लोग कई बार पंखा टोली वाकेय दफ्तर पर भी गये। दफ्तर बंद मिलता था।

इधर, बुध को इमामगंज के मुतासीर लोगों ने एजेंट रवि के मार्फत मैनेजर रंजीत को फिर से पैसा जमा करने का लालच देकर बनारस बैंक चौक के पास बुलाया। दोपहर को जैसे ही रंजीत पैसे लेने पहुंचा, आग बुझाने के दफ्तर के पास लोगों ने उसे पकड़ लिया। उसे यरगमाल बना कर पैसे की मुतालिबा करने लगे। उसके इनकार करने पर धक्का-मुक्की कर लोगों ने उसकी पिटाई भी की। ख़वातीन ने भी उसे जम कर खरी-खोटी सुनाई।

इत्तिला मिलने पर शहर पुलिस के दारोगा कंचन भाष्कर मौके पर पहुंचे, लेकिन गुस्साये लोग उसे पैसे वापस दिये बिना छोड़ने को तैयार नहीं थे। लोगों को समझा-बुझा कर पुलिस उसे थाना ले आयी। देर शाम इमामगंज की आलम आरा समेत दर्जनों लोगों ने रवि कुमार और रंजीत कुमार शर्मा के खिलाफ ठगी का दरख्वास्त दिया। थाना इंचार्ज सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि सनाह दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT