फर्जी वीडियो शेयर कर फसे जिग्नेश मेवाणी, FIR दर्ज

फर्जी वीडियो शेयर कर फसे जिग्नेश मेवाणी, FIR दर्ज

सोशल मीडिया पर कथित रूप से एक फर्जी वीडिया साझा करने और एक निजी स्कूल को बदनाम करने के सिलसिले में गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। मेवाणी वडगाम क्षेत्र के विधायक हैं। उन्होंने 20 मई को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया था। इस वीडियो में आधे नंगे एक स्कूली छात्र को कोई पीट रहा था। जिसके बारे में मेवाणी का दावा था कि वह वलसाड के आरएमवीएम स्कूल के शिक्षक हैं।

पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि इस स्कूल की प्रधानाचार्य विजल कुमारी पटेल ने बृहस्पतिवार को वलसाड पुलिस थाने में विधायक के खिलाफ मामला दर्ज कराया। उनका दावा है कि विधायक ने जो वीडियो शेयर किया, वह उनके स्कूल से जुड़ा हुआ नहीं है और विधायक ने ऐसा करके इस स्कूल और यहां काम कर रहे शिक्षकों की बदनामी की। शिकायत के आधार पर मेवाणी पर भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। मेवाणी ने 20 मई को यह पोस्ट की थी। बाद में मेवाणी ने यह पोस्ट हटा ली। मेवाणी ने वीडियो का लिंक साझा करते हुए दावा किया था कि छात्र को पीट रहे शिक्षक आरएमवीएम स्कूल के हैं। मेवाणी ने इस ट्वीट में पीएमओ को भी टैग किया था। कई ट्विटर यूजर्स का दावा था कि यह वीडियो गुजरात का नहीं बल्कि मिस्र का है।

Top Stories