फलस्तीन और बैतुल मुक़द्दस मुसलमानों के बर्दाश्त करने की आखरी लाइन है- तुर्की

फलस्तीन और बैतुल मुक़द्दस मुसलमानों के बर्दाश्त करने की आखरी लाइन है- तुर्की
Click for full image

तुर्की के विदेशमंत्री ने कहा है कि फिलिस्तीन और कुद्स मुसलमानों की रेड लाइन हैं और अंकारा फिलिस्तीनी जनता के अधिकारों की प्राप्ति तक उनका समर्थन जारी रखेगा।

समाचार एजेन्सी इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार मौलूद चाऊश ओग़लू ने गुरूवार की रात को अंकारा में फिलिस्तीनी प्रशासन के विदेशमंत्री रियाज़ मालेकी से भेंट में कहा कि विश्व समुदाय की चुप्पी और अमेरिकी समर्थन के कारण जायोनी शासन अवैध अधिकृत फिलिस्तीनी क्षेत्रों में जायोनी कालोनियों का निर्माण जारी रखे हुए है और इस्राईल कुद्स के बारे में नकारात्मक कदम उठा रहा है।

इसी तरह तुर्की के विदेशमंत्री ने कहा कि अमेरिका ने अपने दूतावास को तेलअवीव से कुद्स स्थानांतरित करके इस्राईल को और दुस्साहसी बना दिया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में तुर्की का दृष्टिकोण बिल्कुल स्पष्ट है और हर स्थिति में इस्तांबोल में इस्लामी सहकारिता संगठन की बैठक में जो फैसले लिये गये हैं अंकारा उन्हें व्यवहारिक बनाये जाने की दिशा में पूरा प्रयास करेगा।

तुर्की के विदेशमंत्री मौलूद चाऊश ओग़लू ने इसी प्रकार बल देकर कहा कि हर स्थिति में हम फिलिस्तीनियों के साथ रहेंगे यहां तक कि सब कुद्स की स्थिति की सुरक्षा के संबंध में मौन धारण कर लें तब भी हम चुप नहीं रहेंगे।

उन्होंने कहा कि जब तक दो सरकारों के गठन के मामले का समाधान नहीं हो जाता तब तक क्षेत्र में शांति स्थापित नहीं हो सकती।

फिलिस्तीनी प्रशासन के विदेशमंत्री रियाज़ मालेकी ने भी इस भेंट में फिलिस्तीन के समर्थन में तुर्की के दृष्टिकोणों की सराहना की और कहा कि इस्राईल क्षेत्र में तनाव व अशांति का मुख्य कारण है।

साभार- ‘parstoday.com’

Top Stories