Sunday , December 17 2017

फहस फब्तियों से तंग पांच सहेलियों ने दी जान

झारखंड सरहद से सटे मगरीबी बंगाल के मिदनापुर में पांच सहेेलियों ने जहर पीकर जान दे दी। उनकी एक सहेली जिन्दगी और मौत से जूझ रही है। जिंदा बची लड़की के मुताबिक उन लोगों ने ऐसा गाँव वालों की तरफ से दी जाने वाली उलाहनों और फहस फब्तियों स

झारखंड सरहद से सटे मगरीबी बंगाल के मिदनापुर में पांच सहेेलियों ने जहर पीकर जान दे दी। उनकी एक सहेली जिन्दगी और मौत से जूझ रही है। जिंदा बची लड़की के मुताबिक उन लोगों ने ऐसा गाँव वालों की तरफ से दी जाने वाली उलाहनों और फहस फब्तियों से तंग आकर किया।

जिन्दगी और मौत से जूझ रही पूजा नायक के मुताबिक सभी छह सलेहियां अक्सर एक साथ रहती थीं और उनमें काफी गहरी दोस्ती थी। इसे लेकर कुछ गाँव वालों ने उनपर फहस फब्तियां कसते थे। यह सिलसिला काफी दिनों से चल रहा था। इससे तमाम सहेलियां परेशान थीं।
पूजा नायक (14) ने मिदनापुर अस्पताल में पुलिस को बताया कि बेबी नायक (20), नमिता नायक (16), सरस्वती नायक (15), सोमा नायक (14), पालन नायक (20) और ज़िंदा बची पूजा नायक( 14) ने पीर को गांव से दूर खेत में पहले बैठक की। उसके बाद इजतेमाई तौर से ख़ुदकुशी करने का फैसला लिया। कुछ सहेलियां इस फैसले से खुश नहीं थीं। इसके बाद सभी ने फैसला लिया कि रोज-रोज के ताने सुनने से अच्छा है मौत को गले लगाना। उसके बाद पांचों ने फसल में डाला जानेवाला जहर बारी-बारी से पी लिया। आखरी घूंट पूजा ने पी। चूंकि आखिर में जहर की मिक़दार कम हो गई थी इस वजह से वह बच गई।

TOPPOPULARRECENT