फ़लस्तीन पर सऊदी अरब का मौकुफ़ मज़बूत-ओ-मुस्तहकम: शाह सलमान

फ़लस्तीन पर सऊदी अरब का मौकुफ़ मज़बूत-ओ-मुस्तहकम: शाह सलमान
Click for full image

जेद्दाह 22 जून: सऊदी फ़रमांरवा शाह सलमान बिन अबदुलअज़ीज़ ने कहा है कि फ़लस्तीनी नसब उल-ऐन और फ़लस्तीनी अवाम के जायज़ हुक़ूक़ के बारे में सऊदी अरब ने मज़बूत मौक़ूफ़ इख़तियार कर रखा है।

उन्होंने ये बात जेद्दाह में फ़लस्तीनी सदर महमूद अब्बास से मुलाक़ात में कही है।उन्होंने मुलाक़ात में फ़लस्तीनी इलाक़ों की ताज़ा सूरत-ए-हाल पर तबादला-ए-ख़्याल किया है।इस मौके पर फ़लस्तीनी सदर ने सऊदी फ़रमांरवा को यादगारी तोहफ़ा भी दिया है।एन उसी रोज़ इसराईली हुकूमत ने मक़बूज़ा मग़रिबी किनारे में यहूदी आबादकारों की बस्तीयों के लिए एक करोड़ अस्सी लाख डॉलरज़ की इज़ाफ़ी रक़म की मंज़ूरी दी है और कहा है कि ये रक़म सिक्योरिटी ख़तरात से निमटने के लिए मुख़तस की जाएगी।

इसराईली रोज़नामे हॉरिट्ज़ की रिपोर्ट के मुताबिक़ नेतन्याहू की काबीना इस मक़सद के लिए आठ करोड़ अस्सी लाख डॉलरस की रक़म पहले ही मुख़तस कर चुकी है और इस का ये मौकूफ़ रहा है कि अक्तूबर के बाद मग़रिबी किनारे के इलाक़े में चाक़ू हमलों ,फायरिंग के वाक़ियात के बाद से सिक्योरिटी तहफ़्फुज़ात के पेश-ए-नज़र ये रक़म मुख़तस करना ज़रूरी था।ये रक़म मुख़्तलिफ़ मक़ासिद के लिए इस्तेमाल की जाएगी और नेतन्याहू ने काबीना के हफ़्त वार मीटिंग के आग़ाज़ में भी इस तरफ इशारा किया है और इस को मग़रिबी किनारे में कम्यूनिटीयों को मज़बूत बनाने के लिए एक इमदादी मन्सूबा क़रार दिया है।

Top Stories