Monday , December 11 2017

फ़ारूक़ अबदुल्लाह पर मुलाय‌म सिंह का तंज़

साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर जम्मू-ओ-कश्मीर-ओ-सरपरस्त नेशनल कान्फ़्रैंस फ़ारूक़ अबदुल्लाह अगर पाकिस्तान के साथ उल-हाक़ कर लेते तो वो वहां के वज़ीर-ए-आज़म बन सकते थे लेकिन उन्हें फांसी पर लटकाए जाने का ख़दशा भी दर पेश था ।

साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर जम्मू-ओ-कश्मीर-ओ-सरपरस्त नेशनल कान्फ़्रैंस फ़ारूक़ अबदुल्लाह अगर पाकिस्तान के साथ उल-हाक़ कर लेते तो वो वहां के वज़ीर-ए-आज़म बन सकते थे लेकिन उन्हें फांसी पर लटकाए जाने का ख़दशा भी दर पेश था ।

सदर समाजवादी पार्टी मुलाय‌म सिंह यादव ने आज कहा कि फ़ारूक़ अबदुल्लाह की तरफ‌ से पाकिस्तान में उल-हाक़ से इनकार ख़ुद उन के हक़ में बेहतर साबित हुआ । लोक सभा में मर्कज़ी वज़ीर फ़ारूक़ अबदुल्लाह पर तन्क़ीद करते हुए मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि एक बार अबदुल्लाह ने उनसे कहा था कि वो पाकिस्तान के वज़ीर-ए-आज़म बन सकते थे अगर उनकी पार्टी आज़ादी के बाद पाकिस्तान की ताईद करती ।

मुलाय‌म सिंह यादव ने कहा कि फ़ारूक़ अबदुल्लाह को ये भी एहसास होना चाहीए कि पाकिस्तान में वज़ीरे आज़म को फांसी देने की भी एक तारीख़ है अगर फ़ारूक़ अबदुल्लाह भी वज़ीर-ए-आज़म पाकिस्तान बनते तो उन्हें भी ऐसा ही ख़तरा दरपेश होता । वो साबिक़ वज़ीर-ए-आज़म पाकिस्तान भुट्टो का बिलवासता हवाला दे रहे थे जिन्हें 30 साल क़बल फांसी पर लटका दिया गया।

TOPPOPULARRECENT