फ़िलिस्तीनियों ने जमकर मनाया जीत का जश्न !

फ़िलिस्तीनियों ने जमकर मनाया जीत का जश्न !

ग़ज़्ज़ा और जार्डन नदी के पश्चिमी तट की जनता ने अतिग्रहणकारी ज़ायोनी शासन के हमलों के मुक़ाबले में प्रतिरोधकर्ता को मिलने वाली सफलता का जश्न मनाया।

इसी मध्य इमास आंदोलन ने घोषणा की है कि ज़ायोनी दुश्मन जब तक ग़ज़्ज़ा के विरुद्ध अपने समस्त हमले नहीं रोकेगा वह भी संघर्ष विराम पर अमल नहीं करेगा। उधर ग़ज़्ज़ा में फ़िलिस्तीनी सरकार के सूचना कार्यालय ने घोषणा की है कि ग़ज़्ज़ा पर ज़ायोनी शासन के साथ हालिया पाश्विक हमलों में कम से कम 44 फ़िलिस्तीनी शहीद और घायल हुए हैं।

फ़िलिस्तीनियों ने अलअक़सा टीवी की इमारत के सामने एकत्रित होकर अतिग्रहणकारी ज़ायोनी शासन के मुक़ाबले में अपने पर्तिरोध पर बल देते हुए कहा कि अतिग्रहणकारी ज़ायोनी शासन के मुक़ाबले में उनके संघर्ष का क्रम जारी रहेगा।

इसी मध्य फ़िलिस्तीन के जेहादे इस्लामी संगठन ने भी घोषणा की है कि जब तक ज़ायोनी दुश्मन के हमले बंद रहेंगे, वह भी संघर्ष विराम पर अमल करते रहेंगे। उधर पश्चिमी तट के विभिन्न क्षेत्रों के अधिकतर फ़िलिस्तीनियों ने प्रदर्शन करके ग़ज़्ज़ा की जनता के समर्थन की घोषणा की और इस क्षेत्र पर ज़ायोनी शासन के हालिया हमलों की निंदा की।

जार्डन नदी के पश्चिमी तट के विभिन्न क्षेत्रों में फ़िलिस्तीनियों ने प्रदर्शन करके ग़ज़्ज़ा के फ़िलिस्तीनियों के विरुद्ध इस्राईलियों के हमले बंद कराने और इस क्षेत्र का परिवेष्टन समाप्त करने की आवश्यकता पर बल दिया।

दूसरी ओर ग़ज़्ज़ा में फ़िलिस्तीनी सरकार के सूचना कार्यालय के प्रमुख ने एक प्रेस कांफ़्रेंस में घोषणा की है कि ग़ज़्ज़ा पर रविवार की रात से मंगलवार की रात तक इस्राईल के पाश्विक हमलों में 14 फ़िलिस्तीनी शहीद और 30 से अधिक घायल हुए हैं। इस प्रेस कांफ़्रेंस में सलामा मारूफ़ ने भी कहा कि इन दिनों ज़ायोनी शासन ने 150 हमले किए जिनमें सरकारी और आवासीय इमारतों सहित 80 संस्थाओं, सिविल एविएशन के केन्द्रों, मीडिया केन्द्रों, खेतों और हमास के ठिकानों को निशाना बनाया गया

Top Stories