Friday , November 24 2017
Home / Khaas Khabar / फ़िल्म अदाकार सय्यद जाफ़री का इंतेक़ाल

फ़िल्म अदाकार सय्यद जाफ़री का इंतेक़ाल

मुंबई: हुज़ूर इस क़दर भी ना इतरा के चलिए , खुले आम आँचल ना लहरा के चलिए जैसे मशहूर गाने को फ़िल्म मासूम में नसीरुलुद्दीन शाह के साथ पर्दे पर पेश करने वाले बाली वुड के अदाकार सय्यद जाफ़री तवील अलालत के बाद इंतेक़ाल कर गए। उनकी उम्र 86 साल थी । उन्होंने लंदन , न्यूयॉर्क और वाशिंगटन में शैय किसपर के कई ड्रामों में अदाकारी की।

हालाँकि उनकी पैदाइश मालेर कोटला ( पंजाब ) में हुई। उनका कहना था कि उन्हें अदाकारी का शौक़ उनकी माँ की वजह से हुआ जो मुख़्तलिफ़ पार्टियों में शिरकत के बाद जब घर आती थीं तो पार्टी में मौजूद ख़ास ख़ास मेहमानों की हूबहू नक़ल किया करती थीं। शतरंज के खिलाड़ी , राम तेरी गंगा मैली , हिना , गांधी और सागर उनकी चंद अहम फिल्मों में शुमार की जाती हैं।

सागर में उनके साथ उनकी साबिक़ा बीवी मधुर जाफ़री ने भी ऋषि कपूर की दादी का रोल अदा किया था जब कि सय्यद ने डिम्पल कपाडिया के मछेरे वालिद का रोल अदा किया था। सय्यद जाफ़री को दिलीप कुमार के साथ काम करने की देरीना आरज़ू थी जिवेश चोपड़ा ने फ़िल्म मशाल बनाकर पूरी कर दी।

सय्यद जाफ़री ने बैन उल-अक़वामी अदाकारों सीन कानेरी , मीकाईल केनी , रोशन सेठ , जेम्स अलेवरी , रिचर्ड आईन बर्ग और डानेल डे लीव के साथ भी काम किया है। वो पहले हिन्दुस्तानी है जिन्हें ड्रामा अदाकारी में आर्डर आफ़ दी ब्रिटिश एम्पायर अता किया गया था।

TOPPOPULARRECENT