Tuesday , December 12 2017

फ़्री ट्रेड मुआहिदा पर मुज़ाकरात केलिए हकूमत-ए-हिन्द की आमादगी का इंतिज़ार

हैदराबाद १९मार्च (पी टी आई) हुकूमत तुर्की को एक फ़्री ट्रेड मुआहिदा पर मुज़ाकरात शुरू करने के लिए हकूमत-ए-हिन्द की आमादगी का इंतिज़ार ही। इस मुआहिदा का मक़सदबाहमी ट्रेड को फ़रोग़ देना हैं। तुर्की सफ़ीर बराए हिंद बराक इक़रा पर ने य

हैदराबाद १९मार्च (पी टी आई) हुकूमत तुर्की को एक फ़्री ट्रेड मुआहिदा पर मुज़ाकरात शुरू करने के लिए हकूमत-ए-हिन्द की आमादगी का इंतिज़ार ही। इस मुआहिदा का मक़सदबाहमी ट्रेड को फ़रोग़ देना हैं। तुर्की सफ़ीर बराए हिंद बराक इक़रा पर ने ये बात बताई। उन्हों ने अख़बारी नुमाइंदों को बताया कि हम ने ट्रेड की मुशतर्का स्टडी को मुकम्मलकरलिया है जिस में सिफ़ारिश की गई कि इस में दोनों ममालिक केलिए काफ़ी फ़ायदा है हमें इस मुशतर्का स्टडी पर अभी दस्तख़त करना और मुज़ाकरात शुरू करना बाक़ी ही। हम इस मुशतर्का स्टडी पर दस्तख़त केलिए तारीख़ देने केलिए हिंदूस्तानी रफ़क़ा के लीटर का इंतिज़ार कर रहे हैं, मैं अंदाज़ा क़ायम नहीं कर सकता कि ये कब होगा।

तुर्की के सफ़ीर ने कहाकि दोनों ममालिक के दरमयान बाहमी तिजारत साल 2011 -ए-में 7 बिलीयन अमरीकी डालर से तजावुज़ करगई जबकि 2010 -ए-में ये 4 बिलीयन डालर थी। उन्हों ने कहाकि वो समझते हैं कि एफ़ टी ए की मआशी शराकत के ज़रीया दोनों समतों में राहें खुलींगी और ट्रेड को बड़े पैमाना पर फ़रोग़ हासिल होगा।

मिस्टर इक़रा पर ने कहाकि अनक़रा नेइस्तंबोल और हैदराबाद, चेन्नाई, अमृतसर, बैंगलौर और कोलकता के दरमयान रास्तपरवाज़ें चलाने वदहली और मुंबई से चलाई जाने वाली फ्लाइट्स की तादाद को दोगुना करने हुकूमत से इजाज़त तलब की ही। तुर्की ने हैदराबाद, चेन्नाई और बैंगलौर में कौंसुलेटस खोलने इजाज़त तलब की हैं।

TOPPOPULARRECENT