Sunday , January 21 2018

फायरिंग में दो मौतें, नक्सली गिरफ़्तार

झारखंड के नक्सल मुतासीर खूंटी ज़िले के एक गाँव के बाज़ार में नक्सलियों की गोलाबारी में दो लोग मारे गए हैं। पुलिस का कहना है कि मुबयना नक्सली तंजीम पीएलएफआइ ने अड़की थाना इलाक़े के बीरबांकी गांव में लगे साप्ताहिक बाज़ार में गोलियां

झारखंड के नक्सल मुतासीर खूंटी ज़िले के एक गाँव के बाज़ार में नक्सलियों की गोलाबारी में दो लोग मारे गए हैं। पुलिस का कहना है कि मुबयना नक्सली तंजीम पीएलएफआइ ने अड़की थाना इलाक़े के बीरबांकी गांव में लगे साप्ताहिक बाज़ार में गोलियां चलाई है। तर्जुमान ने बताया है कि इस वाकिया में विश्राम मुंडा और गोपाल मुंडा नामक दो लोग मारे गए हैं।

इनके अलावा आगजनी की वाकिया में एक गाड़ी भी जल गई है। पुलिस के मुताबिक मारे गए दोनों सख्श मुश्तबा सरगरमियों में मौलूस थे और लेवी वसूलने और असलाह सप्लाय करने का काम करते थे। खूंटी के एसपी ने कहा है कि मारे गए लोगों के लाश बरामद नहीं किए जा सके हैं।

नक्सली गिरफ़्तार

झारखंड के एक दीगर नक्सल मुतासीर ज़िले लातेहर में पुलिस ने एक मुबयना असलाह बंद ग्रुप को गिरफ़्तार किया है। इसमें आठ लोग शामिल हैं। पुलिस का दावा है कि पकड़े गए तमाम लोग मुबयना नक्सली तंजीम झारखंड जनमुक्ति परिषद ( जेजेएमपी) से जुड़े हैं।

लातेहार के एसपी माइकल राज एस के मुताबिक असलाह बंद ग्रुप को लातेहार थाना इलाक़े के नवारी गांव के पास से पकड़ा गया है। ये लोग वहां पर कैंप लगाकर रह रहे थे।
ज़िला पुलिस और फोर्सों ने तसादम के दौरान इन लोगों को गिरफ़्तार किया। छानबीन में पता चला है कि ये लोग झारखंड के पलामू, लातेहार, गुमला और लोहरदगा ज़िलों के रहने वाले हैं।

हथियार बरामद

पुलिस के मुताबिक मुबयना नक्सलियों से बड़ी मिक़दार में असलाह बरामद किए गए हैं जिनमें कुछ जदीद असलाह भी हैं। पुलिस का दावा है कि बरामद असलाह में पुलिस से लूटी गईं तीन राइफ़लें भी शामिल हैं। पुलिस का कहना है कि यह ग्रुप काफ़ी दिनों से इस इलाक़े में सरगर्म था और लेवी वसूलने में मौलूस था। मोहन उर्फ़ आलोक इस दस्ते की कियादत करते रहे हैं।

गौरतलब है कि गुजिशता 25 जून को भारत सरकार के सलामती मुशीर के विजय कुमार ने झारखंड नक्सली मुतासीर मुखतलिफ़ ज़िलों में पुलिस और इंतेजामिया के आला अफ़सरों के साथ क नक्सलियों के खिलाफ़ चलाए जा रहे मुहिम और हिफाजत के मामलों पर बैठकें की थी। उन्होंने कई हिदायत भी दिए थे। समझा जा रहा है कि पुलिस ने इसी सिम्त में मुहिम तेज किए हैं।

TOPPOPULARRECENT