Monday , December 18 2017

फिलहाल सियासत में आने का कोई इरादा नहीं :प्रियंका

प्रियंका गांधी ने फिलहाल सियासत में आने से इनकार करते हुए कहा कि उन्हें नहीं लगता कि लोकसभा इंतेखाबात में किसी भी पार्टी को वाजेह अक्सरियत हासिल होगी । नामानिगारों से बातचीत में इस सवाल पर कि इस इलेक्शन में क्या किसी पार्टी पूरी

प्रियंका गांधी ने फिलहाल सियासत में आने से इनकार करते हुए कहा कि उन्हें नहीं लगता कि लोकसभा इंतेखाबात में किसी भी पार्टी को वाजेह अक्सरियत हासिल होगी । नामानिगारों से बातचीत में इस सवाल पर कि इस इलेक्शन में क्या किसी पार्टी पूरी अक्सरियत मिलेगी, प्रियंका ने कहा, मुझे नहीं लगता कि किसी पार्टी को वाजेह अक्सरियत मिलेगी।

उन्होंने सियासत में आने के मुताल्लिक सवाल पर कहा कि मेरा फिलहाल सियासत में आने का कोई इरादा नहीं है। मेरे बच्चे छोटे हैं। मेरी खाहिश है कि बच्चों के थोड़ा बडे होने तक मैं उनकी देखभाल करूं क्योंकि हमने बचपन में दादी और वालिद को खोकर उस दर्द का एहसास किया था इसलिए मैं अपने बच्चों को मां का भरपूर प्यार देना चाहती हूं।

प्रियंका ने कहा कि उन्हें किताबें पढने और खाना बनाने का शौक है। इस सवाल पर कि क्या हम उम्मीद करें कि आप मुस्तकबिल में सियासत में आएंगी, प्रियंका ने कहा,मैं इसके लिए मुस्तकबिल में सोचूंगी कि क्या करना है। प्रियंका ने माना कि अमेठी के लोगों में कुछ वजहों से नाराजगी है। उन्होंने यहां के लोग किसी पार्टी के नहीं हैं,सबका मुझसे दिल का रिश्ता है, लेकिन वे किसी न किसी वजह से नाराज हैं। इसी वजह से वे अक्सर मुखालिफत करते हैं लेकिन मैं उन्हें साथ लाने की कोशिश करूंगी। यह पूछे जाने पर कि अमेठी में इतने दिनों से तश्हीर की कमान संभालने के दौरान कैसा माहौल लगा, प्रियंका ने कहा, हमें थोडी दिक्कतें हुईं तो वे अपने ही तंज़ीम से हुईं।

तंज़ीमी इंतेखाबात के बाद हमारी तंज़ीम नयी था, उन्हें तजुर्बा नहीं था। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने उन्हें अमेठी और रायबरेली के तंज़ीम की जिम्मेदारी सौंप दी है और वह इलेक्शन के बाद भी अब हर महीने या दूसरे महीने इन दोनों जगहों पर आती रहेंगी और पार्टी या तंज़ीम को मजबूत करने का काम करेंगी।

हाल में खुद को मिली एसपीजी सेक्युरिटी को अपने काफिले से अलग किए जाने पर प्रियंका ने कहा,हमने इस इलेक्शन में यह महसूस किया कि एसपीजी के लोग जनता के साथ अच्छा सुलूक नहीं करते हैं जिससे उन्हें दिक्कतें होती हैं। इसी वजह से हमने पिछले दिनों एसपीजी को अपने काफिले से अलग कर दिया था।

वाराणसी से नरेंद्र मोदी के खिलाफ इलेक्शन मे खड़े कांग्रेस उम्मीदवार अजय राय की वाराणसी जाने की अपील के बारे में पूछे जाने पर प्रियंका ने कहा,मैंने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया था, लेकिन मैं तश्हीर के लिए वाराणसी नहीं जा रही हूं।

TOPPOPULARRECENT