फीफा वर्ल्ड कप: दो मुस्लिम देशों की आपस में भिड़ंत, मोहम्मद सलाह की हुई वापसी

फीफा वर्ल्ड कप: दो मुस्लिम देशों की आपस में भिड़ंत, मोहम्मद सलाह की हुई वापसी
Click for full image

मेजबान रूस ने फुटबाल विश्वकप में अपने अभियान की धमाकेदार शुरूआत करते हुए सउदी अरब को 5-0 से हराया था लेकिन आज उसका सामना ग्रुप ए की टीम मिस्र से होगा जो अपने स्टार मोहम्मद सलाह की वापसी के बाद से नयी ऊर्जा में दिखाई दे रही है।

मेजबान टीम आज सेंट पीटर्सबर्ग में उत्तरी अफ्रीकी देश मिस्र का सामना करेगी जो अपने ओपनिंग मैच में उरूग्वे से 0-1 से हार चुकी है और यदि वह अगला मैच भी गंवा देती है तो विश्वकप से उसका बाहर होना लगभग पक्का हो जाएगा।

रूस ने सउदी अरब को ओपनिंग मैच में 5-0 के बड़े गोल अंतर से हराया था और इससे वह ग्रुप में शीर्ष पर है और मिस्र के खिलाफ उसे मनोवैज्ञानिक बढ़त भी हासिल है।

मिस्र के अर्जेंटीना मूल के कोच हैक्टर कूपर अब भी ग्रुप में टीम को दूसरे स्थान पर देखते हैं लेकिन ऐसा करने के लिए उसे हर हाल में रूस से मैच जीतना होगा और साथ ही गोल अंतर भी बड़ा रखना होगा। सलाह की वापसी से मिस्र के हौंसले बुलंद हुए हैं जो रूस के उम्रदराज डिफेंस को भेदने की कोशिश करेंगे।

रूसी कोच स्तानिसलाव चेरचेसोव ने पहले मैच में 38 साल के सर्जेई इग्नाशेविच और 34 साल के यूरी जिरकोव को उतारा था और यदि दूसरे मैच में भी कोच इसी उम्रदराज जोड़ी को मौका देते हैं तो मिस्र को इससे फायदा मिल सकता है।

26 साल के सलाह मिस्र के पहले मैच में बेंच पर बैठे रहे थे और कोच कूपर ने उन्हें खेलाकर जोखिम नहीं लिया था क्योंकि सालाह कंधे की चोट से वापसी कर रहे हैं।

जिरकोव हालांकि सलाह की तुलना में कहीं अनुभवी है लेकिन सलाह ने पिछले सत्र में लीवरपूल के लिए काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। वहीं इग्नाशेविच का भी अनुभव रूस के लिए अहम है लेकिन विपक्षी टीम के महमूद हसन भी उसकी ताकत हैं जो उरूग्वे के खिलाफ अहम साबित हुए थे।

रूसी टीम में ब्राजील मूल के मारियो फर्नांडिज से भी अच्छे खेल की उम्मीद रहेगी लेकिन उसके मिडफील्डर एलेन जागोएव ओपनिंग मैच में चोटिल होने के कारण बाहर हैं। उनकी जगह टीम में डेनिस चेरिशेव को शामिल किया गया है और मेजबान टीम को अपनी आगे की राह मजबूत करने के लिए फिर से पिछले प्रदर्शन को दोहराना होगा।

Top Stories