फैजाबाद से मुंबई जा रही साकेत एक्सप्रेस में लगी आग सभी मुसाफिर महफूज़

फैजाबाद से मुंबई जा रही साकेत एक्सप्रेस में लगी आग सभी मुसाफिर महफूज़
नई दिल्ली: फैज़ाबाद से मुम्बई जा रही साकेत एक्सप्रेस ट्रेन में इलाहाबाद के करीब आग लगने से अफरा तफरी मच गई. चलती ट्रेन में यह आग पहले पार्सल बोगी में लगी और उसके बाद इसने माज़ूर कोच को भी अपनी चपेट में ले लिया.

नई दिल्ली: फैज़ाबाद से मुम्बई जा रही साकेत एक्सप्रेस ट्रेन में इलाहाबाद के करीब आग लगने से अफरा तफरी मच गई. चलती ट्रेन में यह आग पहले पार्सल बोगी में लगी और उसके बाद इसने माज़ूर कोच को भी अपनी चपेट में ले लिया.

हादिसे के वक्त माज़ूर कोच में तकरीबन 45 मुसाफिर सवार थे. इस आग में ट्रेन के दो कोच बरबाद दो गए. फायर ब्रेगेट की कोशिश के बाद आग पर काबू पा लिया गया है.

इनमे से कुछ ने धीमी रफ़्तार से आगे बढ़ रही चलती ट्रेन से छलांग लगाकर अपनी जान बचाई तो कुछ को आर्मी के जवानों और ट्रेन में सवार दूसरे मुसाफिरों ने मुश्किल से बचाया. आग की वजह से आपस में जुडी पार्सल बोगी और माज़ूर कोच पूरी तरह जलकर राख हो गए.

राहत की बात यह रही कि माज़ूर कोच में मौजूद सभी 45 मुसाफिर बहिफाज़त निकाल लिए गए और उन्हें कोई ख़ास नुकसान नहीं हुआ. आग के वजुहात का अभी तक पता नहीं चल पाया है.

चलती ट्रेन में आग लगने की खबर के बाद शहर से तकरीबन दर्जन भर फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को बुलाया गया था. हालांकि आग बुझाने में सिर्फ दो गाड़ियों का ही इस्तेमाल किया गया था. ट्रेन की दूसरी बोगियों में सवार मुसाफिर भी इस हादिसे के बाद से खासे दहशत में हैं.

मुसाफिरों के मुताबिक़ अगर ज़ाय हादिसा के पास कैम्प कर रहे आर्मी के जवानों ने जांबाजी नहीं दिखाई होती तो न सिर्फ पूरी ट्रेन आग की चपेट में आ जाती, बल्कि तमाम मुसाफिरों की ज़िंदगी के लिए खतरा भी पैदा कर देती.रेलवे अफसरों ने शक ज़ाहिर किया है कि आग बोगी में लगे इलेक्ट्रिक बोर्ड में शार्ट सर्किट की वजह से लग सकती है.

Top Stories