Sunday , November 19 2017
Home / International / फोन पर ‘इंशाअल्लाह’ कहा तो विमान से उतारा

फोन पर ‘इंशाअल्लाह’ कहा तो विमान से उतारा

makhzoomo-1

अमेरिका के लॉस एंजेलिस हवाई अड्डे पर एक मुस्लिम नौजवान को महज़ इसलिए उतार दिया गया क्योंकि फ्लाइट में उन्होंने इंशाल्लाह बोला था। बार्कले से ग्रेजुएट 26 साल के मख्ज़ूमी ने सीएनएन न्यूज़ चैनल को बताया कि वह फ्लाइट के भीतर थे और फोन पर अरबी भाषा में बात कर रहे थे। इसके बाद उन्हें साउथवेस्ट की फ्लाइट से उतार दिया गया। मख्जूमी ने बताया कि वह अपने सीट पर बैठकर फोन पर बगदाद में अपने चाचा से बात कर रहे थे। उन्होंने उत्सुकता  में उनसे पूछा कि पिछले दिनों जब डिनर पर संयुक्त राष्ट्र के महासचिव से आपने सवाल किया तो कैसा लगा। आखिर में फोन रखने से पहले उन्होंने अरबी लफ्ज़ इंशाअल्लाह कहा।

मख्जूमी महसूस ने महसूस किया कि एक औरत उन्हें घूर रही है, उसके बाद उन्होंने फोन रख दिया। उन्होंने बताया कि पहले मैंने सोचा कि मेरे जोर-जोर से बात करने की वजह से शायद वो चिड़ गई है। पर दो मीनट में ही एक व्यक्ति पुलिस अधिकारियों के साथ आया, आप विश्वास नहीं कर सकते वे कितने तेजी में थे। उन्होंने आते ही मुझसे कहा प्लेन से उतरो। एक अधिकारी मुझे एक अलग हिस्से में ले गया और पूछा कि वह आज के राजनीतिक माहौल में अरबी में क्यों बात कर रहा था। अधिकारी ने मुझसे कहा कि इमानदारी से बताओ कि तुम शहीदों के बारे में क्या कह रहे  थे। जो कुछ शहीदों के बारे में जानते हो, साफ-साफ बताओ। मैंने बताया कि मैं राजनीतिक विज्ञान के स्नातक का छात्र हूं और मैं केवल ‘गॉड विलिंग’ (इंशाआल्लाह) कहा। उसके बाद पूछताछ बंद हो गया। उसके बाद मेरा सामान सूंघने के कुत्तों को लाया। मेरा पर्स ले लिया गया।

मख्जूमी ने इंडिपेंडेंट अखबार से कहा कि अमेरिका स्वतंत्रता की भूमि है। यहां लोग कानून का सम्मान करते हैं। कोई कैसे इस तरह किसी को अपमानित कर सकता है। उन्होंने आगे कहा कि हम सद्दाम हुसैन के शासन में रहते थे। मुझे पता है कि भेदभाव कैसा लगता है। मख्जूमी 2010 में, अपनी बड़ी बहन के साथ एक कानूनी शरणार्थी के तौर पर अमेरिका आए थे। उन्होंने बताया कि उन्हें ओकलैंड बाउंड प्लेन पर रिबोर्ड नहीं किया गया, और पैसा लौटा दिया। उसके बाद उन्हें दूसरी फ्लाईट लेनी पड़ी। उन्होंने कहा कि वो इस घटना के कारण अंदर से हिल गए और उसके बाद सो नहीं सके।

काउंसिल ऑन अमेरिकन इस्लामिक रिलेशन्स (सीएआईआर) ने यूएस डिपार्टमेंट ऑफ ट्रांपोटेशन ऑफिस ऑफ एविएशन इनफोर्समेंट एंड प्रोसिडिंग में साउथवेस्ट एयरलाइंस के खिलाफ एक मुस्लिम यात्री के साथ जातीय और धार्मिक भेजभाव करने को लेकर शिकायत की है। सीएआईआर की स्थानीय नागरिक अधिकारों की समन्वयक सबा माहेर कहती हैं कि हमलोग इसे सामान्य तरीके इस घटना को नहीं लेने वाले। हम संघीय जांच संस्था और परिवहन विभाग से साउथवेस्ट एयरलाइंस के लिए दबाव बना रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT