Friday , December 15 2017

बंगलादेश की स्पिन बौलिंग ,बेहतर मुज़ाहरा केलिए न्यूज़ीलैंड पुरअज्म

न्यूज़ीलैंड क्रिकेट टीम आइन्दा हफ़्ता बंगलादेश के ख़िलाफ़ पाँच सालों के दौरान अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ खेलने केलिए तय्यार है और इस टीम ने उम्मीद ज़ाहिर की कि मेज़बान बंगलादेश की असल ताक़त स्पिन बौलिंग के ख़िलाफ़ वो बेहतर मुज़ाहरा केलिए तय्

न्यूज़ीलैंड क्रिकेट टीम आइन्दा हफ़्ता बंगलादेश के ख़िलाफ़ पाँच सालों के दौरान अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ खेलने केलिए तय्यार है और इस टीम ने उम्मीद ज़ाहिर की कि मेज़बान बंगलादेश की असल ताक़त स्पिन बौलिंग के ख़िलाफ़ वो बेहतर मुज़ाहरा केलिए तय्यार है।

न्यूज़ीलैंड क्रिकेट टीम के कोच माईक ह्यसन् ने मीडिया नुमाइंदों से इज़हार ख़्याल करते हुए कहा कि हम इस हक़ीक़त से बख़ूबी वाक़िफ़ हैं कि बंगलादेश के ख़िलाफ़ हमें सख़्त सीरीज़ के इलावा कुछ मिलने वाला नहीं लिहाज़ा हम इस मर्तबा मेज़बान टीम की स्पिन बौलिंग के ख़िलाफ़ बेहतर मुज़ाहरा केलिए पुरअज्म हैं।

आख़िरी मर्तबा न्यूजीलैंड ने 2008 में बंगलादेश के ख़िलाफ़ टेस्ट सीरीज़ खेली थी जहां उसे 1-0 की कामयाबी हासिल हुई थी जैसा कि चटगाव‌ में होने पहले टेस्ट में उसे 3 विकटों की कामयाबी हासिल हुई थी और इत्तिफ़ाक़ से चहारशंबा को दोनों टीमों के बीच‌ शुरू होने वाले पहले टेस्ट का मेज़बान भी चटगाव‌ ही है।

ह्यसन् ने मज़ीद कहा कि आख़िरी मर्तबा जब हम ने यहां कामयाबी हासिल की थी तब हमें कामयाबी केलिए 300 से ज़ाइद रंस‌ का निशाना पार‌ करना था और बर्र-ए-सग़ीर में टेस्ट की चौथी इनिंगस‌ में ख़ुसूसन स्पिन के ख़िलाफ़ 300 रंस‌ का निशाना हासिल करना आसान नहीं होता।

न्यूज़ीलैंड के कोच के मुताबिक‌ इस मर्तबा भी बंगलादेश की टीम एक सख़्त हरीफ़ साबित होगी जिसके ख़िलाफ़ मेहमान टीम तनआसानी का मुज़ाहरा बिल्कुल नहीं करेगी। न्यूज़ीलैंड टीम को तजुर्बाकार और सीनिय‌र खिलाड़ी डेंटल वेटोरी की ख़िदमात दस्तयाब नहीं जिन्होंने न्यूज़ीलैंड को 2008 में कामयाबी दिलवाने के दौरान 76 रंस‌ की एक यादगार इनिंगस‌ खेली थी।

कोच ह्यसन् को उम्मीद है कि ब्रेंडन मीकालिम की ज़ेर-ए-क़ियादत टीम में मौजूद दीगर खिलाड़ी वेटोरी के गायब में ख़ुद को मिलने वाले मौक़ा का बेहतर फ़ायदा उठाएंगे।

TOPPOPULARRECENT