Tuesday , January 23 2018

बंगला देश से तूफ़ान रोआनू टकरा गया 24 हलाक

ढाका 23 मई: कम अज़ कम 24 लोग् हलाक और दुसरे 100 ज़ख़मी हो गए जब कि समुंद्री तूफ़ान रोआनू बंगला देश के जुनूबी साहिल पर तबाही मचाने की वजह बना। ज़मीन खिसकने के वाक़ियात पेश आए जिसकी वजह से ओहदेदारों को तक़रीबन पाँच लाख लोगें का तख़लिया करवाना पड़ा।

समुंद्री तूफ़ान के साथ हवा की रफ़्तार 88 किलोमीटर फ़ी घंटा थी। ये समुंद्री तूफ़ान बारी साल। चटगानग के इलाके में आया जिसका असर पूरे मुल्क में महसूस किया गया। बेशतर मुक़ामात पर बारिश हुई और गरज चमक के साथ बोछारें पड़ें जिनके साथ आरिज़ी तौर पर आंधी और तेज़-रफ़्तार हवा भी सुबह के वक़्त चलती हुई महसूस की गई।

हलाकतों की तादाद 24 हो गई जब कि कल रात-भर में चार लोग के हलाक होने की इत्तेला मिली। बंगला देश के आफ़ात-ए-समावी इंतेज़ामीया महिकमा के डायरेक्टर जनरल रियाज़ अहमद ने कहा कि 11अफ़राद नाबालिग़ बच्चे शुमाली मशरिक़ी साहिली शहर चटगानग में हलाक हो गए। ये इलाक़ा समुंद्री तूफ़ान से बदतरीन मुतास्सिरा इलाक़ा है।

जुनूब मग़रिबी इलाके भोला शुमाल मग़रिबी नवा खाली और कॉक्स का बाज़ार साहिली अज़ला में समुंद्री तूफ़ान से तीन लोग हलाक हुए जब कि 85हज़ार मकानों को नुक़्सान पहुंचा। तिजारती इमारतें साहिली इलाके में मुतास्सिर हुईं कई महलोकीन सेलाब के पानी में डूब कर मरग़ए जिसकी वजह से ज़मीन खिसकने के वाक़ियात मकानों का इन्हिदाम और जड़ों से दरख़्तों के उखड़ कर गिरने के वाक़ियात में दुसरे लोग हलाक हुए। हलाकतों की जुमला तादाद अब 24 हो गई है।

TOPPOPULARRECENT