Wednesday , February 21 2018

बंगारू तल्ली स्कीम को काबीना की मंज़ूरी मिल गई

हैदराबाद 18 जून: रियास्ती काबीना ने चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी की मुतआरिफ़ करदा बंगारू तल्ली स्कीम को मंज़ूरी देदी ताके असेंबली में बाक़ायदा तौर पर बिल पेश कर के स्कीम के लिए क़ानूनी मौक़िफ़ हासिल होसके।

हैदराबाद 18 जून: रियास्ती काबीना ने चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी की मुतआरिफ़ करदा बंगारू तल्ली स्कीम को मंज़ूरी देदी ताके असेंबली में बाक़ायदा तौर पर बिल पेश कर के स्कीम के लिए क़ानूनी मौक़िफ़ हासिल होसके।

आज शाम चीफ़ मिनिस्टर की सदारत में ज़ाइद अज़ देढ़ घंटे तक जारी रहे काबीना कि मीटिंग में मासिवा चार वुज़रा दुसरे तमाम वुज़रा ने शिरकत की।

ग़ैर हाज़िर वुज़रा में के जाना रेड्डी पी लकशमया एन रग्घू वीरा रेड्डी और डी मानिक्या विरह प्रसाद राव‌ शामिल हैं सरकारी ज़राए ने कहा कि बंगारू तल्ली स्कीम के लिए चंद रहनुमायाना ख़ुतूत भी रावना किए जाऐंगे।

इन में लड़की की पैदाइश सरकारी दवाख़ाने में होनी चाहीए और पैदाइश के साथ ही उसके माँ बाप को इबतिदाई 2500 रुपये के अलावा टीका अंदाज़ी के लिए 1000 रुपये जुमला 3500 रुपये अदा किए जाऐंगे।

ये स्कीम इन ख़वातीन के लिए क़ाबिल अमल होगी जिन के हाँ सफ़ैद राशन कार्ड और आधार कार्ड मौजूद हो। इलावा काबीना में इमदादी-ओ-ख़ानगी स्कूलस में मनमानी और तौर पर वसूल की जाने वाली फ़ीस की शिकायात पर ग़ौर किया गया और अंधा धुंद फ़ीस रक़ूमात पर तहदीदात आइद करके तफ़सीली का जायज़ा लेने और हुकूमत को रिपोर्ट पेश करने काबीनी ज़ेली कमेटी तशकील दी गई है।

ज़राए के मुताबिक़ काबीना मीटिंग में इदारा जात मुक़ामी चुनाव के लिए तहफ़्फुज़ात की फ़राहमी के मसले पर ग़ौर वख़ोस किया गया और ग्राम पंचायत चुनाव के लिए पसमांदा तबक़ात को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने ज़िला को यूनिट तसव्वुर करने और शैडोलड कासटस तबक़ात को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने रियासत को यूनिट तसव्वुर करने की सिफ़ारिश करके मंज़ूरी दी गई।

बताया जाता हैके 7 जून को मुनाक़िदा काबीना मीटिंग में चीफ़ मिनिस्टर बंगारू तल्ली स्कीम पर इख़तेलाफ़ राय था और इस मीटिंग में बाअज़ वुज़रा के सख़्त मौक़िफ़ और चीफ़ मिनिस्टर पर मनमानी करने के अलावा काबीना में मंज़ूरी हासिल किए बगै़र स्कीमात के एलान करने पर मुख़ालिफ़त का इज़हार किया था जिस की वजह से इस स्कीम को मंज़ूरी हासिल नहीं होसकी थी लिहाज़ा दुबारा आज काबीना कि मीटिंग तलब कर के तरजीही बुनियाद पर इस स्कीम को एजंडा में शामिल रखा गया और आज भी स्कीम की मंज़ूरी पर फिर एक मर्तबा तनाज़ा पैदा ना होने वज़ीर पंचायत राज के जाना रेड्डी ने उम्दन मीटिंग में शिरकत से गुरेज़ किया क्यूंकि जाना रेड्डी का कहना था कि लड़की की पैदाइश पर मरहला वार असास पर रक़म अदा करने के बजाये 21 साल उम्र तक के लिए लड़की के नाम पर बड़ी रक़म डिपाज़िट करवाने की सूरत में लड़की के लिए फ़ायदेमंद साबित होसकताहै।

काबीना के पिछ्ले मीटिंग में बंगारू तल्ली स्कीम की ना सिर्फ़ के जाना रेड्डी बल्के वज़ीर फाइनैंस ए राम नारायण और दुसरे वुज़रा ने मुख़ालिफ़त की थी लेकिन आज कि मीटिंग में किसी वज़ीर ने स्कीम की ना मुख़ालिफ़त की और ना किसी दिलचस्पी का इज़हार किया बल्के चीफ़ मिनिस्टर किरण कुमार रेड्डी ने तफ़सीलात से वाक़िफ़ करवाया और मंज़ूरी की ख़ाहिश की।

बताया गया कि रियासत में इमदादी-ओ-ख़ानगी मदारिस इंतेज़ामीया की तरफ से सुप्रीम कोर्ट के एक फ़ैसले की आड़ में मनमानी फ़ीस वसूल करने से मुताल्लिक़ हुकूमत को वसूल होने वाली शिकायतों से वज़ीर-ए-ताअलीम ने काबीना को वाक़िफ़ करवाया और कहा कि इस कि जन्कारि करने और मनमानी फीसों की वसूली पर पपाबन्दी आइद करके ख़ानगी-ओ-इमदादी मदारिस के लिए ख़ुद हुकूमत की तरफ से फ़ीस रक़म ( फ़ीस ढांचा) मुक़र्रर करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया जिस पर चीफ़ मिनिस्टर ने इस मसले का जायज़ा लेने और रिपोर्ट हुकूमत को पेश करने का बीनी सब कमेटी तशकील देने से इत्तेफ़ाक़ करने पर काबीना ने उसकी मंज़ूरी देदी ।

TOPPOPULARRECENT