Sunday , December 17 2017

बंगाल मुसालहत कार दस्तबरदार

कोलकता २९ नवंबर ( पी टी आई ) माविस्टों के साथ बातचीत के अमल को आज उस वक़्त धक्का लगा जबकि हुकूमत मग़रिबी बंगाल के नामज़द मुसालहत कारों ने बातचीत से दसतबरदारी इख़तियार कर ली । ये तबदीली माविस्ट लीडर किशन जी की हलाकत के चार दिन बाद हुई है

कोलकता २९ नवंबर ( पी टी आई ) माविस्टों के साथ बातचीत के अमल को आज उस वक़्त धक्का लगा जबकि हुकूमत मग़रिबी बंगाल के नामज़द मुसालहत कारों ने बातचीत से दसतबरदारी इख़तियार कर ली । ये तबदीली माविस्ट लीडर किशन जी की हलाकत के चार दिन बाद हुई है ।

मुसालहत कारों ने चीफ़ मिनिस्टर ममता बनर्जी को इत्तिला देते हुए कहा कि जंगल महल में जो सूरत-ए-हाल पैदा हुई है इस के नतीजा में वो बातचीत के अमल को आगे बढ़ाने के मौक़िफ़ में नहीं हैं इस लिए वो इस अमल को जारी रखने से अपनी माज़ूरी ज़ाहिर करते हैं।

मुसालहत कारों के सरबराह सो जा तू भद्रा ने एक सवाल के जवाब में बताया कि जंगल महल में सब कुछ ग़ैर यक़ीनी है । सूरत-ए-हाल मज़ीद बिगड़ सकती है । मौजूदा हालात में बातचीत को जारी रखना मुम्किन नहीं है।

चीफ़ मिनिस्टर ममता बनर्जी ने हालिया वाक़ियात के बावजूद मुसालहत कारों को तलब करते हुए उन्हें हिदायत दी थी कि वो माविस्टों के साथ बातचीत जारी रखें।

TOPPOPULARRECENT