Thursday , December 14 2017

बंटवारे के दौरान मौलाना आजाद मुसलमानों को भारत में रहने के लिए भरोसा दिलाने में कामयाब रहें- नीतीश कुमार

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि मौलाना अबुल कलाम आजाद एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे और देश की आजादी की लड़ाई में उनका बहुत बड़ा योगदान था।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, मौलाना आजाद एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे। देश की आजादी की लड़ाई में उनका बहुत बड़ा योगदान था। आजादी के साथ ही बंटवारे के कारण सांप्रदायिक तनाव का माहौल बन गया था।

आजाद साहब की देश में सांप्रदायिक तनाव को शांत करने में भूमिका तो रही ही, साथ ही अल्पसंख्यकों को यह भरोसा दिलाने में कामयाब रहे कि यह देश तुम्हारा है और इसी देश में तुम रहो।

पटना स्थित श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में शिक्षा दिवस के अवसर पर आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने बिहारवासियों एवं देशवासियों को बधाई दी।

नीतीश कुमार ने कहा, देश में मौलाना अबुल कलाम आजाद के जन्मदिवस पर शिक्षा दिवस मनाने की मांग की जाती थी. इसी दौरान हमने इसकी शुरुआत का निर्णय किया।

मौलाना अबुल कलाम आजाद देश के पहले शिक्षा मंत्री थे. पांच सितंबर को देश के दूसरे राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस पर शिक्षक दिवस मनाया जाता है और 11 नवंबर को मौलाना अबुल कलाम आजाद के जन्म दिवस को लोग शिक्षा दिवस के रूप में मनाते हैं।

TOPPOPULARRECENT