Sunday , September 23 2018

बंदूक के जोर पर सनअत (उद्योग) नहीं: हेमंत

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि राज्य में बंदूक के जोर पर उद्योग नहीं लगाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि राज्य में बंदूक के जोर पर उद्योग नहीं लगाए जाएंगे।

दिल्ली से लौटते ही मंगलवार को उन्होंने अपने रेहाइस पर दाख्ला सेक्रेटरी, डीजीपी समेत दिगर हुक्काम‌ को तलब किया। उनके साथ पार्लियामानी उमूर के वजीर‌ राजेंद्र प्रसाद सिंह भी थे। वजीर आला ने केरेडारी की वाकिये की पूरी जानकारी ली।

उन्होंने हुक्काम‌ को पूरे मामले की जाच के हुक्म‌ दिए। लगभग एक घटे तक बैठक करने के बाद वे सीधे रिम्स रवाना हो गए, जहा उन्होंने फायरिंग में घायल लोगों का हालचाल लिया। वजीर आला ने कहा कि संअत‌ के लिए जबरन जमीन लेने के हक‌ में सरकार नहीं है। वाकिये के वजह‌ का पता लगाया जाएगा और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। उन्होंने दिल्ली दौरे को औपचारिक बताते हुए कहा कि जल्द ही काबिना का तौसी किया जाएगा।

रिम्स में घायल नान्हू महतो और मनोज महतो को देखने पहुंचे वजीर आला हेमंत सोरेन ने कहा कि केरेडारी घटना में लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि दोनों खतरे से बाहर हैं। इन्हें सरकार की ओर से हरमुम्किन तिब्बी सहूलत‌ मुहैया कराई जाएगी।

वजीर आला ने कहा कि एनटीपीसी के चेयरमेन को उन्होंने तलब किया है। उनसे वाकिये की पूरी रिर्पोट मांगी गई है। खित्ता में बढ़ती जुर्म‌ की वाकियात‌ पर उन्होंने कहा कि पुलिस मुस्तइद की जा रही है। जहां भी घटना होगी वहां कार्रवाई की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT