Wednesday , December 13 2017

बकाया बिजली बिल चुकाने के लिए बिहार विधुत विभाग ने निकाला स्कीम

अब्दुल हमीद अंसारी, चकिया। बिहार की बिजली लगातार सुधार की दिशा में आगे बढ़ रही है।अधिक समय तक उपभोक्ता को बिजली मिल सके, इसके लिए विधुत विभाग हरसंभव कोशिश में लगी हुई है। मगर उपभोक्ताओं की शिकायत भी कम नहीं है। ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति की कोशिश जरूर की जा रही है मगर उपभोक्ता बिल की शिकायतें हमेशा करते आये हैं।

इन्हीं शिकायतों को देखते हुए बिहार बिजली विभाग ने उपभोक्ताओं के लिए एक स्कीम जारी की है। ग्रामीण क्षेत्र के बीपीएल एवं घरेलू उपभोक्ताओ के लिए बिजली बिल कितना भी हो, दो से तीन हजार रुपये जमा करने पर फिलवक्त बिजली बिल जमा करने से मुक्ति मिल जाएगी।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक बेगूसराय बिजली विभाग के सहायक अभियंता अजित प्रकाश ने बताया कि बिहार स्टेट (होल्डिंग) कंपनी के निर्देश के आलोक में ग्रामीण क्षेत्र के कुटीर ज्योति एवं घरेलू-1 के उपभोक्ताओं को बकाया बिजली बिल में से दो से तीन हजार रुये जमा करने हैं। शेष राशि के लिए जांच की जाएगी।

इसके बाद देखा जाएगा कि शेष बिजली बिल जमा करना है या नही। उन्होंने बताया कि उपभोक्ताओ की बिजली बिल को लेकर शिकायतें हैं। शिकायतों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।

पूर्वी चम्पारण के चकिया पावर हाउस में उपभोक्ताओं की बड़ी संख्या में जमा देखते हुए यहां के सहायक अभियंता अधिकारी (SDO) सुजीत कुमार से मेरी बात हुई। एसडीओ सुजीत कुमार ने कहा कि इस स्कीम के तहत हम लोगों से अपील करना चाहते हैं कि वो इस मौके को काम में लगाएं और इसके तहत अपने बिजली बिल को जमा कराए।

एसडीओ सुजीत कुमार लगातार उपभोक्ताओं को बारी- बारी से अपने कार्यालय में समझा रहे थे और उपभोक्ताओं को हरसंभव मदद पहुंचा रहे थे। मैं करीब दो घंटे तक उनके कार्यालय में मौजूद रहा और उपभोक्ताओं को हरसंभव मदद देने और समझाने की शैली से प्रभावित हुआ।

एसडीओ सुजीत कुमार ने चकिया पावर हाउस के सभी कर्मचारियों को यह हिदायत दी कि उपभोक्ताओं को बिजली बिल जमा करने के लिए हरसंभव मदद करें।

सूत्रों के मुताबिक बकाया बिल के साथ दोनों श्रेणी के उपभोक्ता चालू माह का बिजली बिल भी जमा करेंगे। बची हुई राशि की जांच के बाद बताया जाएगा कि और कितना बिल जमा करना है। उक्त राशि किश्तों में जमा करनी होगी, या फिर उसे माफ कर दिया जाएगा।

दि सियासत डेली ने इस स्कीम को लेकर बिहार के ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं से बात की है। बातचीत में उपभोक्ताओं ने बड़ी राहत की बात कही है। उपभोक्ताओं की शिकायत है कि विभाग बिल नहीं भेजती है जिससे बिजली बिल प्रति माह चुकाने में काफी परेशानीयों का सामना करना पड़ता है।

उपभोक्ताओं का मानना है कि बिल समय पर नहीं आने के कारण प्रति माह जमा नहीं करा पाते हैं। एक साथ कई महीनों के बिल जमा करने में उपभोक्ताओं को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। फिलहाल इस स्कीम से लोगों को बिल चुकाने में बड़ी राहत मिलती दिख रही है।

TOPPOPULARRECENT