Sunday , December 17 2017

बगै़र सुबूत के सैंकड़ों मुस्लिम नौजवानों को दहश्तगर्द मुआमलात में मुलव्वस किया गया

दिल्ली के शहरी मुहम्मद आमिर ख़ान की जेल से हालिया रिहाई के बाद ये एक इत्तेफ़ाक़ ही है कि एक ऐसी दस्तावेज़ की इजराई अमल में आई है जिसमें कहा गया है कि 1997 से ही कम-ओ-बेश 300 मुस्लिम नौजवानों के ख़िलाफ़ ऐसे मुक़ामात पर मुआमलात दर्ज किए गए जहां द

दिल्ली के शहरी मुहम्मद आमिर ख़ान की जेल से हालिया रिहाई के बाद ये एक इत्तेफ़ाक़ ही है कि एक ऐसी दस्तावेज़ की इजराई अमल में आई है जिसमें कहा गया है कि 1997 से ही कम-ओ-बेश 300 मुस्लिम नौजवानों के ख़िलाफ़ ऐसे मुक़ामात पर मुआमलात दर्ज किए गए जहां दहशत गरदाना वाक़्यात सिरे से रौनुमा ही नहीं हुए। आमिर ख़ान को भी 14 साल जेल में गुज़ारने के बाद रिहाई मिली।

ऑल इंडिया मिली कौंसल जो 40 मुस्लिम ग्रुप्स पर मुश्तमिल है , के एक सेमीनार में मज़कूरा दस्तावेज़ की इजराई अमल में आई जिस में आमिर ख़ान का तज़किरा करते हुए कहा गया कि मुतअद्दिद मुआमलात में हालाँकि नौजवानों को रिहा किया गया लेकिन कुछ मुआमलात में सज़ाएं भी तजवीज़ की गई थीं और सज़ाओं के ख़िलाफ़ दायर कर्दा अपीलें भी अदलिया के ज़ेर-ए-ग़ौर हैं।

TOPPOPULARRECENT