Thursday , December 14 2017

बच्चा मज़दूरी के मुआमला में हिंदूस्तान सर-ए-फ़हरिस्त

वाशिंगटन । 10 । अक्तूबर (एजैंसीयां) हुकूमत अमरीका की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ बच्चा मज़दूरी के ज़रीया दुनिया में सब से ज़्यादा मसनूआत हिंदूस्तान , बंगलादेश और फ़िलपाइन में तैय्यार किए जाते हैं। लेबर डिपार्टमैंट ने अपनी रिपोर्ट में बताया

वाशिंगटन । 10 । अक्तूबर (एजैंसीयां) हुकूमत अमरीका की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ बच्चा मज़दूरी के ज़रीया दुनिया में सब से ज़्यादा मसनूआत हिंदूस्तान , बंगलादेश और फ़िलपाइन में तैय्यार किए जाते हैं। लेबर डिपार्टमैंट ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि अफ़्रीक़ा , एशिया और लैटिन अमरीका के 71 ममालिक में बच्चा मज़दूर ईंट और बाल से लेकर पोलो गिर इफ्फी और नाया-ओ-नादिर मादनियात की मसनूआत जैसे कामों में मशग़ूल हैं। वज़ीर लेबर हिलदा सवेश ने 10 वीं सालाना रिपोर्ट पेश करने के मौक़ा पर बताया कि मेरा मानना है कि ख़ुदा ने सभी को ताक़त अता की है । हर एक बच्चे को अपने ख़ाब को शर्मिंदा ताबीर करने के लिए हक़ दिया गया है और दिया जाना चाहीए । ख़तरनाक कामों में लगे बच्चों और इंटरनैशनल लेबर आर्गेनाईज़ेशन (आई अलाव) के आदाद-ओ-शुमार के पर मुश्तमिल इस रिपोर्ट में बच्चा मज़दूरी के ख़तरनाक सूरत-ए-हाल से मुक़ाबला करने के लिए 140 से ज़्यादा ममालिक के ज़रीया किए जा रहे इक़दामात का जायज़ा लिया गया है । आई अलाव का अंदाज़ा है कि दुनिया में 21.5 शकरोड़ से ज़्यादा बच्चा मज़दूर हैं। एक तिहाई ममालिक ने अभी तक बच्चों के लिए ख़तरनाक कामों की फ़हरिस्त तैय्यार नहीं की है । कुछ ममालिक में इस तरह के कामों के लिए कोई कम अज़ कमउमर मुतय्यन नहीं है और ख़तरनाक कामों में बच्चों को लगाने से रोकने के लिए निगरानी और क़ानून के नफ़ाज़ की कमी है । बच्चा मज़दूरों के ज़रीया तैय्यार किए जाने वाले मसनूआत की भी फ़हरिस्त रिपोर्ट के साथ जारी की गई है । इस फ़हरिस्त में हिंदूस्तान को सर-ए-फ़हरिस्त बताया गया है । हिंदूस्तान में बच्चा मज़दूर बीड़ी , ईंट जूते , ताले , माचिस बनाने जैसे काम से कम अज़ कम 20 मसनूआत की तैय्यारी में लगे हुए हैं। जबरन बच्चा मज़दूरों के ज़रीया तैय्यार किराए गए सात तरह की मसनूआत की फ़हरिस्त में भी हिंदूस्तान को पहला मुक़ाम दिया गया है

TOPPOPULARRECENT