Friday , November 24 2017
Home / District News / बच्चा मज़दूरी के ख़ातमे के लिए काबिल क़लीद इक़दामात

बच्चा मज़दूरी के ख़ातमे के लिए काबिल क़लीद इक़दामात

बच्चा मज़दूरी के ख़ातमे के लिए MARI रज़ाकाराना तंज़ीम की तरफ से इक़दामात क़ाबिल सताइश है। बच्चा मज़दूरी पर मुनहसिर ख़ानदानों को माली तआवुन फ़राहम करते हुए इन बच्चों को मदारिस और हॉस्पिटल्स में दाख़िले दिलवाना क़ाबिल तक़लीद है। इन ख़्यालात क

बच्चा मज़दूरी के ख़ातमे के लिए MARI रज़ाकाराना तंज़ीम की तरफ से इक़दामात क़ाबिल सताइश है। बच्चा मज़दूरी पर मुनहसिर ख़ानदानों को माली तआवुन फ़राहम करते हुए इन बच्चों को मदारिस और हॉस्पिटल्स में दाख़िले दिलवाना क़ाबिल तक़लीद है। इन ख़्यालात का इज़हार बार एसोसीएशन एडवोकेट बंडा भास्कर रेड्डी ने मंडल परिषद ऑफ़िस में MARI तंज़ीम की तरफ से बच्चा मज़दूरी के ख़ातमे के लिए मीडीया नुमाइंदों के ख़ुसूसी मीटिंग में बहैसीयत मेहमाने ख़ुसूसी मुख़ातिब करते हुए क्या।

इस प्रोग्राम का इनइक़ाद प्रोजेक्ट डिस्ट्रिक्ट कोआर्डीनेटर श्रीनिवास की सदारत में मुनाक़िद हुवी। राजिया हेडमास्टर गांधीनगर गर्वनमेंट हाई स्कूल ने बहैसीयत मेहमाने ख़ुसूसी शिरकत की।

बंडा भास्कर ने मुख़ातिब करते हुए कहा कि बच्चा मज़दूरी ख़ातमे के लिए कई एक क़वानीन के नफ़ाज़ के बावजूद अमल आवरी नहीं हो रही है। बच्चों के हुक़ूक़ के लिए अवामी शऊर बेदारी ज़रूरी है।

जिस में मीडीया का अहम रोल होता है। बच्चों को भीक मांगने पर मजबूर करने वाले और बच्चों को फ़रोख़त करने वाले और मज़दूरी के लिए और ग़लत कामों के लिए मजबूर करने वालों के ख़िलाफ़ ना सिर्फ़ नज़र रखने की ज़रूरत है। बल्कि उनके ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई की ज़रूरत है।MARI , Modern Architects of Rural India रज़ाकाराना तंज़ीम करीमनगर में क़ायम करते हुए बच्चा मज़दूरों के ख़ातमे के लिए अमली इक़दामात कर रही है।

मज़दूरों से बच्चों को रोकते हुए उन्हें ना सिर्फ़ तालीम से आरास्ता किया जाता है बल्कि उनके वालिदैन को रोज़गार के लिए MARI तंज़ीम की तरफ से 4 हज़ार फी कस ख़ानदान को मदद की जा रही है ताके वो छोटे दूकान लगाकर ज़िंदगी गुज़ार सके इस तरह MARI तंज़ीम की तरफ से जगत्याल में बड़गा जंगा क्लूनी और इंदिरानगर , गांधीनगर इलाक़े में ग़रीब ख़ानदानों की निशानदेही करते हुए जुमला 19 ख़ानदानों को 4 हज़ार के हिसाब से मदद करते हुए उन के बच्चों को तालीम से आरास्ता करने के लिए हॉस्टलस में शरीक करवाया गया।

TOPPOPULARRECENT