बच्चीयों को बेसहारा ना करो उन्हें हुकूमत के हवाला करदो

बच्चीयों को बेसहारा ना करो उन्हें हुकूमत के हवाला  करदो
नोमोलूद बच्चीयों को बेसहारा छोड़ देना और उन के बेहतर मुस्तक़बिल की फिकर ना करने से बेहतर है कि इस बच्ची को फ़लाह इतफ़ाल कमेटीयों के हवाला करदिया जाय।

नोमोलूद बच्चीयों को बेसहारा छोड़ देना और उन के बेहतर मुस्तक़बिल की फिकर ना करने से बेहतर है कि इस बच्ची को फ़लाह इतफ़ाल कमेटीयों के हवाला करदिया जाय।

सरकारी ओहदेदारों और हुक़ूक़ इतफ़ाल कारकुनों ने बच्चीयों को बेसहारा छोड़ देने के वाक़ियात में इज़ाफ़ा पर तबसरा करते हुए कहा कि अगर अवाम ये समझते हैं और वो क़ानून की दफ़आत से नावाक़िफ़ हैं जो अवाम को इस बात की गुंजाइश फ़राहम करते हैं कि बच्चीयों को इस के वालदैन अगर परवरिश ना करसकते हूँ तो वो किसी भी वजह से उसे बहबूदी इतफ़ाल कमेटीयों या हुकूमत के हवाला करसकते हैं।

Top Stories