Wednesday , January 17 2018

बच्चों के लिए चाइल्ड लेबर बिल एक खोये हुए मौके जैसा: कैलाश सत्यार्थी

नई दिल्ली: लोकसभा में चाइल्ड लेबर बिल के पारित होने को एक खोया हुआ अवसर करार देते हुए नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा है कि उन्हें उम्मीद थी कि नेता अपने वोटों से कहीं ज्यादा स्वतंत्रता और बचपन को अहमियत देंगे। सत्यार्थी का कहना है कि देश के बच्चों के लिए चाइल्ड लेबर बिल एक खोया हुआ अवसर है। मैं  14 साल से कम उम्र के बच्चे को अपने परिवार की मदद को छोड़ कर किसी काम वालों को अब दो साल  के,तक के कारावास की सजा मिलेगी। गौरतलब है कि सत्यार्थी ने बिल के कई प्रावधानों का सख्त विरोध किया है और लेबर मिनिस्टर के सामने अपना विरोध दर्ज कराया था।

TOPPOPULARRECENT