Tuesday , December 12 2017

बच्चों को गोद देने में नियमों का पालन किया जाए: जोशी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की महिलाओं और परिवार कल्याण एवं बाल कल्याण मंत्री प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि बच्चों को गोद देते समय नियमों का कड़ाई से पालन किया जाए। उन्होंने कहा कि बच्चा प्राप्त होते ही गोद देने से संबंधित नियमों के तहत आवश्यक कार्रवाई सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जाना चाहिए, जो कम से कम समय में बच्चे को गोद लेने के इच्छुक जोड़ी गोद देकर परिवार वातावरण में भेजा जा सके|

जोशी ने कहा कि इस प्रक्रिया से जुड़े सभी इकाइयों को अपना काम अविलंब करें, यह समाज सेवा का ऐसा काम है जो एक मासूम जीवन कार्यों का पूरा भविष्य जुड़ा हुआ है। एक बच्चे को परिवार से जोड़ना केवल आधिकारिक जिम्मेदारी ही नहीं है यह एक बहुत बड़ी सामाजिक जिम्मेदारी भी है।

राज्य सरकार बच्चों की रक्षा के लिए भी उतनी ही प्रतिबद्ध है जितनी महिलाओं की सुरक्षा के लिए है। प्रोफेसर जोशी कल यहां बच्चों को गोद देने वाली राज्य इकाइयों के कार्यों की समीक्षा बैठक कर रही थीं हिदायत दी कि जिले प्रवोेशन अधिकारी (डीपीओ) जिले में सुनिश्चित करेगा कि कोई गैर पंजीकृत इकाई बच्चा गोद देने का काम न करे।

TOPPOPULARRECENT