Saturday , August 18 2018

बजट मीटिंग के आख़िरी दिन भी शोर-ओ-गुल

हैदराबाद 22 जून: शोर-ओ-गुल मुनाज़िर के दौरान रियासी असेंबली कि मीटिंग आज तसर्रुफ़ बिल 2013 की मंज़ूरी के बाद गैर मीना मुद्दत के लिए मुल्तवी करदिया गया।

हैदराबाद 22 जून: शोर-ओ-गुल मुनाज़िर के दौरान रियासी असेंबली कि मीटिंग आज तसर्रुफ़ बिल 2013 की मंज़ूरी के बाद गैर मीना मुद्दत के लिए मुल्तवी करदिया गया।

मीटिंग के आग़ाज़ के साथ स्पीकर ने अपोज़ीशन पार्टियों की तरफ से दी गई तमाम तहरीकात अलतवा का एलान किया। स्पीकर के फैसले पर रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए टी आर एस औरतेलुगूदेशम अरकान नारे लगाते हुए पोडियम तक पहुंच गए और तहरीकात अलतवा को मुबाहिस के लिए कुबूल करने इसरार करने लगे।

तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले तेलुगूदेशम और टी आर एस अरकान के एक दूसरे के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी के बाइस एवान में ज़बरदस्त शोर-ओ-गुल होने लगा था।

तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले तेलुगूदेशम अरकान ने प्ले कार्ड्स थामे हुए थे जिन पर दर्ज था कि के सी आर ने तेलंगाना एजीटेशन को सोनिया गांधी के पास रहन रख दया, के सी आर ख़ानदान ने तेलंगाना एजीटेशन के नाम पर करोड़ों रुपये बटोर लिए।

टी आर एस अरकान ने इस के जवाब में तेलुगूदेशम अरकान के ख़िलाफ़ नारा लगाए कि ख़बरदार! तेलंगाना के ग़द्दार। स्पीकर ने एवान की सूरत-ए-हाल को कंट्रोल में लाने की कोशिशों की नाकामी पर मीटिंग को आधे घंटे के लिए 9:07 बजे मुल्तवी करदिया।

TOPPOPULARRECENT