Friday , November 24 2017
Home / Crime / बजरंगी भाईजान ने ली 2 बच्चों की जान, 6 की हालत गंभीर

बजरंगी भाईजान ने ली 2 बच्चों की जान, 6 की हालत गंभीर

शम्स तबरेज़, सियासत न्यूज़ ब्यूरो।
लखनऊ: जौनपुर जिले के भसौली गांव में एक दुकान से बजरंगी भाईजान चूरन खाने से 2 बच्चों की मौत हो गई है और 6 लोगों का अस्पताल में ईलाज में चल रहा है। भसौली गांव में शुक्रवार की शाम आठ बच्चों ने पड़ोस की एक दुकान से बजरंगी भाईजान नाम का चूरन का पैकेट खरीदा और सभी ने उसे खाया थोड़ी देर बाद सभी बच्चों की तबियत खराब हो गई और उनके मुंह से झाग आने लगा, बच्चों की ऐसी हालत देखकर अरविन्द वर्मा की पत्नी को चूरन पर शक हुआ, तो उन्होने भी चूरन खाया लेकिन उनकी भी तबियत खराब हो गई। एक साथ इतने बच्चों की तबियत खराब देखकर गांव में कोहराम मच गया और आनन फानन में गांव वालों ने अरविन्द की पत्नी समेंत सभी बच्चों को अस्पताल और निजी चिकित्सक के यहां पहुंचे लेकिन ईलाज के दौरान संजय वर्मा की 10 साल की रिया और 7 साल के अंकुर की मौत हो गई। इस घटना से व्याकुल अन्य लोगो ने तत्काल ज़िला अस्पताल सुल्तानपुर पहुंचे, जहां अरविंद वर्मा के दो बच्चों 8 साल के शनी और 6 साल की ‘अभी’ का इलाज चल रहा है। जबकि उनकी पत्नी लक्ष्मी और हरीश वर्मा के दो बच्चे 7 साल की दिशा, 5 साल के दीक्षेश तथा चंद्रहास की 6 साल की बेटी साक्षी को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया गया।
मौके पर पहुंच एसडीएम सत्यजीत सिंह और खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग की टीमे मौके पर जांच करने पहुंची। सभी ने चूरन का नमूना लिया और दुकान को सीज कर दिया।
दैनिक जागरण के न्यूज़ पोर्टल के अनुसार एसपी अतुल सक्सेना ने बताया कि पुलिस ने जमादार वर्मा की तहरीर पर चूरन व्यवसाइयों अनुसुइया तिवारी, कृष्ण कुमार व मुश्ताक पर मुकदमा दर्ज कर एक को हिरासत में ले लिया है। कानपुर की पप्पू कंपनी के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जा रहा है। मामला गंभीर है आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। उत्तर प्रदेश में चूरन के जहरीले होने से इस प्रकार का ये पहला मामला जिसमें इतने लोग बिमार पड़ गए और दो बच्चों को जान गवाना पड़ा। ऐसे में अभिभावकों को अपने बच्चों की निगरानी करनी चाहिए कि वो क्या सेवन करते हैं।

TOPPOPULARRECENT