बड़ी खबर: भारत से ज़ंग की तैयारी कर रहा है पाकिस्तान!

बड़ी खबर: भारत से ज़ंग की तैयारी कर रहा है पाकिस्तान!

पुलवामा आतंकी हमले पर भारत की चेतावनी के बाद पाकिस्तान डर गया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के दो संगठनों (जमात-उद-दावा और फलह-ए-इंसानियत) पर बैन लगाने के साथ ही पीओके में नियंत्रण रेखा के करीब रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा है. साथ ही सेना को अलर्ट कर दिया है.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के हाथ दो आधिकारिक दस्तावेज लगे हैं जिससे इस बात की जानकारी मिली है कि पाकिस्तान अलग-अलग मोर्चों पर तैयारी में जुट चुका है. एक दस्तावेज बलूचिस्तान स्थित मिलिटरी बेस का अखबार ने बताया है.

अखबार ने लिखा है कि पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में स्थानीय प्रशासन को एक नोटिस भेजा गया है जिससे पता चलता है कि पड़ोसी मुल्क ने भारत के साथ जंग की तैयारी शुरू कर दी है.

प्रभात खबर पर छपी खबर के अनुसार, बताया जा रहा है कि क्वेटा कैंटोन्मेंट स्थित पाकिस्तानी सेना के बेस हेडक्वॉर्टर्स क्वेटा लॉजिलस्टिक्स एरिया यानी एचक्यूएलए की ओर से 20 फरवरी को जिलानी अस्पताल को एक पत्र भेजा गया है.

इस पत्र में भारत से संभावित युद्ध की स्थिति में चिकित्सकीय मदद के लिए इंतजाम करने के आदेश दिये गये हैं. मिलिट्री अस्पताल में आकस्मिक स्थिति के लिए बेड की संख्या में बढोत्तरी करने के साथ ही सिविल अस्पतालों को घायल जवानों के लिए 25 फीसदी बेड रिजर्व रखने को कहा गया है.

इधर, इमरान ने गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) की बैठक में देश की सुरक्षा स्थिति पर चर्चा की. बैठक में आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा भी मौजूद थे. पाकिस्तान सरकार ने पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के करीब रहने वाले गांव के लोगों को सतर्क रहने को कहा है.

इस बाबत प्रशासन की ओर से बाकायदा एडवाइजरी जारी की गयी है. अधिकारियों ने बताया कि नियंत्रण रेखा के पास रहने वाले लोगों से आने-जाने के लिए सुरक्षित रास्ते जैसे ऐहतियाती उपाय करने को कहा गया है. लोगों से कहा गया है कि वे खास जगहों के आसपास समूह में जमा न हों और बंकर भी न बनाएं. यही नहीं, स्थानीय लोगों को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि वे एलओसी के पास के रास्तों पर बिना वजह न जाएं और रात के समय अनावश्यक रूप से लाइट न जलाएं.

Top Stories