Tuesday , December 19 2017

बदउनवान वुज़रा को अंदरून 6 माह सज़ाए क़ैद का ऐलान

नई दिल्ली, २७ नवंबर: (पीटीआई)अरविंद केजरीवाल ने आज अपनी आम आदमी पार्टी का आग़ाज़ करते हुए अह्द किया कि वो बद उनवान वुज़रा को पार्टी के बरसर-ए-इक्तदार आने के अंदरून छः माह जेल भेजवा देंगे । वो पार्लीमेंट स्ट्रीट में पर हुजूम जल्सा-ए-आम से

नई दिल्ली, २७ नवंबर: (पीटीआई)अरविंद केजरीवाल ने आज अपनी आम आदमी पार्टी का आग़ाज़ करते हुए अह्द किया कि वो बद उनवान वुज़रा को पार्टी के बरसर-ए-इक्तदार आने के अंदरून छः माह जेल भेजवा देंगे । वो पार्लीमेंट स्ट्रीट में पर हुजूम जल्सा-ए-आम से ख़िताब कर रहे थे ।

उन्होंने कहा कि जन लोक पाल बिल आम आदमी पार्टी के दौरा इक़तिदार ( शासन) में अंदरून 15 दिन मंज़ूर कर लिया जाएगा । उन्होंने कहा कि बदउनवान वुज़रा की फ़हरिस्त ग़ैर मुख़्ततम है और हमारे मुल्क के क़ाइदीन की फ़हरिस्त भी ऐसी ही हैं । उन्होंने कहा कि ये तमाम अफ़राद पर फ़र्द-ए-जुर्म आइद कर के जुर्म साबित हो जाने पर उन्हें जेल भेज दिया जाना चाहीए ।

उन्होंने अवाम को तयक्क़ुन दिया कि आम आदमी की पार्टी बरसर-ए-इक्तदार आने पर इन तमाम अफ़राद पर मुक़द्दमा चलाया जाएगा और अंदरून 6 माह जेल भेज दिया जाएगा । उनके हमराह शांति भूषण और साबिक़ सरबराह बहरीया एडमीरल राम दास भी थे जिन्होंने पार्टी का दस्तूर तहरीर किया है ।

उन्होंने अवाम को समझाया कि उन की तंज़ीम और मौजूदा सयासी पार्टीयों में क्या फ़र्क़ है । उन्हों ने इल्ज़ाम आइद किया कि आज़ादी के बाद से अब तक इन पार्टीयों ने मुल्क को लूट लिया है । उन्होंने कहा कि 2014 के आम इंतेख़ाबात में एक मुनफ़रद सयासी जंग देखी जाएगी जो सयासी पार्टीयों और सियासतदानों के ख़िलाफ़ अवाम की जंग होगी ।

उन्होंने कहा कि अवाम गुज़शता 65 साल से मसाइब ( समस्याओं) का शिकार हैं ।अब वो ख़ुद अपनी पार्टी क़ायम कर के पार्लीमेंट में दाख़िल होंगे । उन्होंने कहा कि 26 नवंबर की तारीख़ मौजूदा सयासी निज़ाम को तबदील करने के लिए एक इन्क़लाब के आग़ाज़ के दिन की हैसियत से याद रखी जाएगी ।

उन्होंने कहा कि अगर हम सियासतदानों से 65 साल क़बल इक़तिदार ( सता) छीन लेते तो आज अव्वल दर्जा के शहरी होते जबकि फ़िलहाल तीसरे दर्जा के शहरी हैं । उन्होंने अपने हामीयों से चार अहद लिए कि वो कभी रिश्वत ना देंगे और ना लेंगे ,कभी अपना वोट फ़रोख़्त नहीं करेंगे चाहे इसके इव्ज़ इन्हें शराब की बोतल मिले ,नक़द रक़म मिले या साड़ी दी जाए ,हर इंतेख़ाबात में वोट का हक़ इस्तेमाल करेंगे और ये इस्तेमाल ज़ात पात या मज़हब की बुनियाद पर नहीं होगा ।

इस जलसा में केजरीवाल और दीगर ने मुंबई दहशतगर्द हमलों के मौक़ा पर दहशतगर्दों के ख़िलाफ़ जुराअत मंदी से जंग करने वालों को ख़िराज-ए-अक़ीदत पेश किया । उन्होंने ऐलान किया कि उनकी पार्टी की कारकर्दगी शफ़्फ़ाफ़ होगी । अख़राजात और अतियों की तफ़सीलात वेबसाइट पर शाय की जाएंगी ।

उन्होंने कांग्रेस और बी जे पी को चैलेंज किया कि उन के पास मौजूद रक़म इस के ख़र्च और गुजरात इंतेख़ाबात के दौरान इश्तेहारात पर किए जाने वाले ख़र्च का अगर हिम्मत हो तो बरसर-ए-आम ऐलान करें । दरीं असना साबिक़ वज़ीर-ए-क़ानून शांति भूषण ने आज नौ तशकील शूदा पार्टी आम आदमी की पार्टी के लिए 1 करोड़ रुपय का अतीया दिया और हर शोबा-ए-हयात के अफ़राद से अपील की कि वो पार्टी को फ़राख़दिली से अतया दें ताकि वो भी पार्लीमेंट में दाख़िल हो सके ।

अवाम से इस तक़रीब के दौरान एक लाख 60 हज़ार रुपए के अतिये हासिल हुए । शांति भूषण ने तक़रीर करते हुए कहा कि मुल्क के अवाम को ख़ुद अपने लिए उठ कर खड़े हो जाना चाहीए और अपनी क़िस्मत अपने हाथों से बनाना चाहीए । वो पार्लीमेंट में दाख़िल होकर ही अपने मुस्तक़बिल का फ़ैसला कर सकेंगे ।

TOPPOPULARRECENT