Tuesday , December 19 2017

बदहाल शहर में बैनुल अकवामी क्रिकेट मैच के लिए जेएससीए तैयार

बैनुल अकवामी क्रिकेट मैच के एंकाद के लिए जेएससीए का शानदार स्टेडियम तैयार है, पर शहर बदहाल है। बैनुल अलक्वामी सतह के इस स्टेडियम से रांची की पहचान तो बनी है, पर मुल्क-खरजा से आनेवाले मेहमानों पर शहर छाप नहीं छोड़ पायेगा।

बैनुल अकवामी क्रिकेट मैच के एंकाद के लिए जेएससीए का शानदार स्टेडियम तैयार है, पर शहर बदहाल है। बैनुल अलक्वामी सतह के इस स्टेडियम से रांची की पहचान तो बनी है, पर मुल्क-खरजा से आनेवाले मेहमानों पर शहर छाप नहीं छोड़ पायेगा।

बाहर से आनेवाले खिलाड़ियों-मेहमानों के सामने शहर के हक़ीक़त की पोल खुलेगी। टूटी-फूटी सड़कें, बजबजाती नालियां, ट्रैफिक-जाम जैसी मसलों से उन्हें दो-चार होना पड़ेगा। ऐसी नेज़ाम में रांची की तस्वीर अच्छी नहीं बनेगी।
रांची रेलवे स्टेशन से निकलते ही ओवरब्रिज जानेवाली सड़क पर बायीं तरफ गंदगी और कचरे का ढेर दिखता है। यहीं पर सड़क के किनारे ही लोग बाइतुल खुला करते हैं। यहां से गुजरनेवाले मुसाफिर नाक पर रूमाल रख कर आना-जाना करते हैं। मेन रोड चर्च कांप्लेक्स के सामने भी कचरे का ढेर है। ओल्ड एचबी रोड समेत शहर की बाकी सड़कों पर भी जहां तहां कचरा फैला हुआ है। कांटाटोली बस स्टैंड पर भी कीचड़ और गंदगी का ढेर है।

शहर की कई सड़कें अभी भी बदहाल है। ओल्ड एचबी रोड में कब्रिस्तान से से लेकर कांटाटोली चौक तक 70 से भी ज्यादा गढ्ढे हैं। बहूबाजार, सिरोमटोली चौक के पास भी सड़कें उखड़ी हुई है। मिशन चौक के पास काफी बड़ा गड्ढा है, जिसमें पानी जमा है। करमटोली चौक से बरियातू जाने की सड़क पर डीएवी इंटरनेशनल स्कूल के सामने सड़क जजर्र है। शहीद चौक से अपर बाजार जाने के रास्ते भी खराब हालत में है। शहर की ज्यादातर सड़कों के किनारे नालियां भी जाम है।

चौक चौराहों पर जाम

मसरूफ़ वक़्त में खास कर स्कूल कॉलेज और दफ्तर आने जाने के वक्त तमाम अहम चौराहें जाम हो जाते हैं। सुजाता चौक, कांटाटोली चौक, लालपुर चौक, रातू रोड चौराहा और दीगर सड़कें जाम रहते हैं इसकी वजह चौक चौराहों पर ही ऑटो और बस रोककर सवारियों को बैठाना, उतारना है। ऑटो, रिक्शा यहां तक कि आम लोग भी बेतरतीब तरीके से गाड़ी चलाते हैं। इससे भी जाम लगता है और लोगों को परेशानी होती है।

TOPPOPULARRECENT