Wednesday , December 13 2017

बरतरफ़ी पर चीफ़ मिनिस्टर से सवालात करूंगा – रवींद्र रेड्डी

हैदराबाद 6 जून (सियासत न्यूज़) डी एल रवींद्र रेड्डी का उन के हल्क़ा असेंबली मेदकोर (ज़िला कड़पा) में शानदार ख़ौरमक़दम किया गया। काबीना से बरतरफ़ी के बाद आज वो मेदकोर् पहुंचे, जहां अपने हामीयों से ख़िताब करते हुए उन्हों ने कहा कि उन

हैदराबाद 6 जून (सियासत न्यूज़) डी एल रवींद्र रेड्डी का उन के हल्क़ा असेंबली मेदकोर (ज़िला कड़पा) में शानदार ख़ौरमक़दम किया गया। काबीना से बरतरफ़ी के बाद आज वो मेदकोर् पहुंचे, जहां अपने हामीयों से ख़िताब करते हुए उन्हों ने कहा कि उन का शुमार दागदार वुज़रा में नहीं है और ना ही उन्हों ने पार्टी से बग़ावत की है,

फिर उन्हें काबीना से क्यों मुअत्तल किया गया? आज तक उस की वजह नहीं बताई गई। उन्हों ने कहा कि अगर चीफ़ मिनिस्टर टेलीफ़ोन करके उन से इस्तीफ़ा तलब करते तो वो बगैर किसी शर्त के मुस्ताफ़ी हो जाते, लेकिन काबीना से बरतरफ़ करके उन्हें पार्टी से की गई वफ़ादारी का इनाम दिया गया है।

उन्हों ने कभी ओहदा की ख़ाहिश नहीं की, ताहम पार्टी की ज़िम्मेदारी को बख़ूबी अंजाम दिया। उन्हों ने कहा कि वो अपनी बरतरफ़ी के बारे में 10 जून से शुरू होने वाले असेंबली सेशन में चीफ़ मिनिस्टर से इस्तिफ़सार करेंगे और बादअज़ां अपने हामीयों के मश्वरा पर अपने सयासी मुस्तक़बिल का लाएह अमल तैयार करेंगे।

उन्हों ने बताया कि दो माह क़ब्ल वो पार्टी सदर सोनीया गांधी को चीफ़ मिनिस्टर के साथ काम ना करने के इरादा से वाक़िफ़ करा चुके थे, क्योंकि मनमानी फ़ैसला करने वाले किरण कुमार रेड्डी चीफ़ मिनिस्टर के ओहदा के अहल नहीं हैं।

उन्हों ने इक़्तेदार के सहारे अपनी ख़ाहिश की तकमील और कांग्रेस को नुक़्सान पहुंचाने का चीफ़ मिनिस्टर पर इल्ज़ाम आइद किया।

TOPPOPULARRECENT