Tuesday , December 12 2017

बर्तानवी फ़ौज अफ़्ग़ानिस्तान छोड़ने केलिए तैय्यार

अफ़्ग़ान हुकूमत को तालिबान के साथ अमन बातचीत में तेज़ी लानी चाहीए क्योंकि बर्तानवी फ़ौज 2014 में अफ़्ग़ानिस्तान छोड़ने के लिए तैय्यार

अफ़्ग़ान हुकूमत को तालिबान के साथ अमन बातचीत में तेज़ी लानी चाहीए क्योंकि बर्तानवी फ़ौज 2014 में अफ़्ग़ानिस्तान छोड़ने के लिए तैय्यार

हयीफ़ारन अफेयर्ज़ सेलेक्ट कमेटी के चेयरमेन रिचर्ड ओटावे ने दावा किया कि नवंबर में अमरीकी सदारती इंतिख़ाबात की वजह से मुज़ाकरात पर जमूद तारी होगया है।

उन्हों ने वुज़रा(मंत्री) पर ज़ोर दिया कि हामिद करज़ई कुमलक से खूनखराबे के ख़ातमे केलिए बातचीत पर आमादा एम पी मिस्टर ओटावे ने कहा कि गुज़िश्ता साल भी फ़ौरन अफेयर्ज़ कमेटी ने अफ़्ग़ानिस्तान में तमाम इलाक़ाई खिलाड़ियों के दरमयान मुज़ाकरात पर ज़ोर दिया था और बर्तानवी हुकूमत ने इस से इत्तिफ़ाक़ किया था

याणाओं ने कहाकि इस एक साल के अर्सा में कोई पेशरफ़्त नहीं होये दूसरी जानिब फ़ौरन ऑफ़िस के वज़ीर अलीसटीइर बर्ट ने इस की तरदीद की कि सदर ओबामा की दुबारा मुंतख़ब होने की मुहिम की वजह से पेशरफ़्त रुक गई हाई मिनिस्टर‌ बर्ट ने कहा कि बर्तानिया ने ख़ारिजा पौलिसी में अफ़्ग़ानिस्तान पर अपना फ़ोकस तबदील नहीं किया है।

TOPPOPULARRECENT