Tuesday , December 12 2017

बर्तानिया का नरेंद्र मोदी के बाईकॉट का ख़ातमा

गांधी नगर, २३ अक्टूबर (पी टी आई) गुजरात में 2002 के फ़सादाद के बाद नरेंद्र मोदी की आलमी ( राष्ट्रीय) सतह पर मुज़म्मत ( निंदा) की गई थी जिसका सिलसिला काफ़ी अर्सा तक जारी रहा। यहां तक कि अमेरीका और बर्तानिया ने नरेंद्र मोदी को वीज़ा देने से भी इ

गांधी नगर, २३ अक्टूबर (पी टी आई) गुजरात में 2002 के फ़सादाद के बाद नरेंद्र मोदी की आलमी ( राष्ट्रीय) सतह पर मुज़म्मत ( निंदा) की गई थी जिसका सिलसिला काफ़ी अर्सा तक जारी रहा। यहां तक कि अमेरीका और बर्तानिया ने नरेंद्र मोदी को वीज़ा देने से भी इनकार कर दिया था लेकिन अब बर्तानिया ने 10 साला बाईकॉट का ख़ातमा कर दिया है

जिस के बाद बर्तानवी हाई कमिशनर जेम्स बीवान ने वज़ीर-ए-आला नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात की। सुबह 11 बजे मिस्टर बीवान सीधे रियास्ती सेक्रेट्रेट ( सचिवालय) पहुंचे।

इनके साथ एक मुख़्तसर वफ़द भी था। सरकारी ज़राए ( सूत्रों) ने बताया कि मोदी के साथ उन की मुलाक़ात का सिलसिला तक़रीबन एक घंटा जारी रहा। बादअज़ां ( इसके बाद) मिस्टर बीवान गवर्नर कमला बनीवाल से मुलाक़ात के लिए रवाना हुए। अब तक ये मालूम नहीं हो सका कि मुलाक़ात के दौरान नरेंद्र मोदी और मिस्टर बीवान के दरमयान किन मौज़ूआत ( विषयो) पर बातचीत हुई।

याद रहे कि 11 अक्टूबर को बर्तानिया से नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ 10 साला तवील ( लंबे समय ) बाईकॉट के ख़ातमा का ऐलान किया था। बाईकॉट का नफ़ाज़ ( लागू ) 2002 के मुस्लिम कश फ़सादाद के बाद किया गया था।

बर्तानवी हुकूमत ने अपने हाई कमिशनर मिस्टर बीवान को गुजरात का दौरा करने की हिदायत की और कहा कि वो नरेंद्र मोदी और दीगर आला क़ाइदीन-ओ-आफ़िसरान ( लीडर व अधिकारी) से मुलाक़ात करते हुए दोनों ममालिक ( देशों) के मुफ़ाद ( फायदे) के मौज़ूआत पर तबादला-ए-ख़्याल करें और ऐसे मौक़े पैदा करें जिन से दोनों ममालिक एक दूसरे से क़रीबतर (ज्यादा करीब) हो सकें।

वज़ीर-ए-आला नरेंद्र मोदी ने बर्तानिया ने इस इक़दाम को ताख़ीर ( देरी) से होना ना होने से बेहतर या देर आयद ( आए) दुरुस्त आयद (आए ) से ताबीर (कल्पना) किया।

TOPPOPULARRECENT