Sunday , January 21 2018

बर्तानिया में तलबा को सज़ा देने वाले आलीमॆ दीन क़ैद

लंदन २५ नवंबर (एजैंसीज़) बर्तानिया में क़ुरआन मजीद का दरस देने वाले एक मौलवी साहिब को अपने तालिब-ए-इल्म की नाफ़रमानी पर सज़ा देने की पादाश में 10 हफ़्ते की जेल हुई है।

लंदन २५ नवंबर (एजैंसीज़) बर्तानिया में क़ुरआन मजीद का दरस देने वाले एक मौलवी साहिब को अपने तालिब-ए-इल्म की नाफ़रमानी पर सज़ा देने की पादाश में 10 हफ़्ते की जेल हुई है।

60 साला आलम दीन साबिर हुसैन जिन्हें 10 ता 13 साल की उम्र के दीनी तालीम हासिल करने वाले 4 तलबा पर थप्पड़ मारते और घूंसे रसीद करते हुए कैमरे में क़ैद किया गया था, अदालत ने उन्हें 10 हफ़्तों के लिए जेल भेज दिया है।

रज़ाकाराना तौर पर दीनी तालीम देने वाले ये मौलवी साहिब कीघले की मर्कज़ी जामि मस्जिद में दीनी तालीम के दौरान तलबा को क़ुरआन मजीद का सबक़ याद ना रहने पर सज़ा दी थी। तालीमी इदारों के ओहदेदारों और पुलिस ने आलम दीन को दी गई सज़ा का ख़ौरमक़दम किया है। मज़हबी अक़ाइद के हामिल मदारिस मैं तलबा को भी तहफ़्फ़ुज़ फ़राहम किया जाना चाहियॆ।

TOPPOPULARRECENT