Monday , December 18 2017

बर्तानिया में हिंदूस्तानी फ़र्ज़ी शादीयों पर क़ैद में

लंदन 14 दिसमबर (पी टी आई) एक हिंदूस्तानी नज़ाद बर्तानवी शहरी उन 3 अफ़राद में शामिल है, जिसे फ़र्ज़ी शादी , साज़िश में मुलव्विस होने की बिना पर जेल रवाना करदिया गया है। इस ने ये फ़र्ज़ी शादी बर्तानवी वीज़ा हासिल करने केलिए की थी। 37 साल

लंदन 14 दिसमबर (पी टी आई) एक हिंदूस्तानी नज़ाद बर्तानवी शहरी उन 3 अफ़राद में शामिल है, जिसे फ़र्ज़ी शादी , साज़िश में मुलव्विस होने की बिना पर जेल रवाना करदिया गया है। इस ने ये फ़र्ज़ी शादी बर्तानवी वीज़ा हासिल करने केलिए की थी। 37 सालासोचनसट काइसथ को लसटरकरावनकोर ने एतराफ़-ए-जुर्म के बाद 12 माह की सज़ाए क़ैद सुनाई। इस पर साज़िश और धोका दही का इल्ज़ाम आइद किया गया था। उसे अब सज़ाए क़ैद की तकमील पर बर्तानिया से इख़राज का सामना है।

बर्तानवी शहरी 34 साला हिंदूस्तानी नज़ाद मीना टेलर साकन लिस्टर को भी 12 माह की सज़ाए क़ैद सुनाई गई जबकि इस ने साज़िश और धोका दही के जराइम का एतराफ़ किया। एक बर्तानवी शहरी 32 साला अर्ल कनकार को भी 9 माह की सज़ाए क़ैद सुनाई गई जबकि इस ने अदालत को गुमराह करने के जुर्म का एतराफ़ किया था। मुबय्यना तौर पर फ़र्ज़ी शादी रुकमी मुआवज़ाके बदले में की गई थी।

इमीग्रेशन के इस स्कैंडल का आग़ाज़ फ़बरोरी 2006-ए-में हुआ था, जबकि काइसथ और टेलर ने हिंदूस्तान में एक तक़रीब में शादी की थी, जिस का गवाह कनकार था। हिंदूस्तानी तरीक़ा की इस शादी के बाद काइसथ ने टेलर के शौहर की हैसियत से बर्तानवी वीज़ा की दरख़ास्त दी थी। ताहम अप्रैल 2008-ए-में टेलर ने कनकार के बच्चे को जन्म दिया। अक्टूबर 2009-में काइसथ ने ग़ैर मुअय्यना मुद्दत की रुख़स्त की दरख़ास्त दी ताकि बर्तानिया में टेलर के शौहर की हैसियत से अपना क़ियाम जारी रख सके।

TOPPOPULARRECENT