Saturday , December 16 2017

बलदी मुलाज़िमीन की हड़ताल ख़त्म

वज़ीर बलदी नज़म-ओ-नसक़ महेद्र रेड्डी के साथ आज शाम मुंसिंपल वर्कर्स यूनियनों के क़ाइदीन की बातचीत कामयाब रही और हुकूमत ने बलदी मुलाज़िमीन के बुनियादी मुतालिबात की यकसूई से इत्तिफ़ाक़ करलिया है जबकि मुलाज़िमीन की माहाना याफ़्त में इज़

वज़ीर बलदी नज़म-ओ-नसक़ महेद्र रेड्डी के साथ आज शाम मुंसिंपल वर्कर्स यूनियनों के क़ाइदीन की बातचीत कामयाब रही और हुकूमत ने बलदी मुलाज़िमीन के बुनियादी मुतालिबात की यकसूई से इत्तिफ़ाक़ करलिया है जबकि मुलाज़िमीन की माहाना याफ़्त में इज़ाफ़ा अहम मुतालिबा था।

बातचीत की कामयाबी के पेशे नज़र मुंसिंपल वर्कर्स की 5 रोज़ा हड़ताल आरिज़ी तौर पर मुल्तवी करदी गई है और कचहरे की निकासी और जारोब कुशी के काम शुरू कर दीए गए हैं।

वज़ीर बलदी नज़म-ओ-नसक़ के साथ तए पाए मुआहिदे के मुताबिक़ मजलिस बलदिया हैदराबाद के कॉन्ट्रैक्ट वर्कर्स की याफ़्त 6,700 रुपये से बढ़ा कर 8500 रुपये और दुसरे बलदयात के वर्कर्स के लिए 6,700 रुपये से बढ़ा कर 8300 रुपये , और नगर पंचायत के हदूद में,6,700 रुपये से बढ़ा कर 7,300 रुपये तक इज़ाफ़ा किया गया है।

ई पी एफ़, ई एस आई और सरविस टैक्स यकजा करने पर माहाना याफ़्त हैदराबाद में 11706 रुपये , दुसरे बलदयात के लिए 11500 रुपये और नगर पंचायत के हदूद में 10054 रुपये होगी।

महीधर रेड्डी ने बताया कि बलदी वर्कर्स की तनख़्वाहों में इज़ाफ़ा करने के फ़ैसले से इदारा जात मुक़ामी (बलदयात) पर 145 करोड़ रुपये के ज़ाएद माली मसारिफ़ आयद होंगे।

उन्होंने बलदी वर्कर्स के द्फुसरे मसाइल बिलख़सूस हादिसाती इंशोरंस, हफ़्ते में एक मर्तबा छुट्टी देने और दुसरे मसाइल की आजलाना यकसूई पर कहा कि हुकूमत उन मसाइल की यकसूई के लिए संजीदगी से ज़रूर ग़ौर करेगी।

TOPPOPULARRECENT