बशर अल असद का बाग़ीयों पर फ़तह का ऐलान , हलब में बाअज़ ( कुछ) इलाक़ों पर बाग़ी क़ाबिज़

बशर अल असद का बाग़ीयों पर फ़तह का ऐलान , हलब में बाअज़  ( कुछ) इलाक़ों पर बाग़ी क़ाबिज़
बशर अल आसद की हुकूमत ने शामी दार-उल-हकूमत ( राजधानी) दमिश्क़ के लिए बाग़ीयों से सख़्त मुक़ाबले में जहां अपनी फ़तह का ऐलान कर दिया वहीं मुल्क के दूसरे बड़े शहर हलब में बाअज़ हिस्सों पर बाग़ी क़ाबिज़ हो गए हैं सरकारी फ़ौज ने बाग़ीयों को निशान

बशर अल आसद की हुकूमत ने शामी दार-उल-हकूमत ( राजधानी) दमिश्क़ के लिए बाग़ीयों से सख़्त मुक़ाबले में जहां अपनी फ़तह का ऐलान कर दिया वहीं मुल्क के दूसरे बड़े शहर हलब में बाअज़ हिस्सों पर बाग़ी क़ाबिज़ हो गए हैं सरकारी फ़ौज ने बाग़ीयों को निशाना बनाकर गोला बारी जारी रखी है।शाम ( Syria) के इन दोनों बड़े शहरों में बाग़ीयों की नुमायां पेशक़दमी के बाद पिछले दो हफ़्तों के दौरान शामी फ़ौज को पहली मर्तबा मुल्क पर अपनी गिरफ्त बरक़रार रखने के लिए ज़बरदस्त मुक़ाबला करना पड़ा है।

क़ब्लअज़ीं एक धमाके में शामी फ़ौज के चार अहम ज़िम्मेदार ओहदेदार मारे गए थे। शामी फ़ौज ने दार-उल-हकूमत ( राजधानी) पर दुबारा अपना क़बज़ा जमाने में जहां कामयाबी हासिल कर ली है वहीं बाग़ी दूसरे शहर हलब के बाअज़ इलाक़ों पर अब भी क़ाबिज़ हैं। यहां कई दिनों से फ़ौज के साथ बाग़ीयों का मुक़ाबला जारी है।

Top Stories