Wednesday , December 13 2017

बहनोई के इश्क में शौहर का कत्ल

लखनऊ, 11 अप्रैल: दिल्ली नगर निगम के मुलाज़िम आशीष कुमार रस्तोगी के मर्डर केस का खुलासा कर पुलिस ने इस मामले में दोनों मुल्ज़िमीन , आशीष की बीवी और उसके बहनोई को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि मुल्ज़िम खातून और उसके बहनोई ने कत्ल क

लखनऊ, 11 अप्रैल: दिल्ली नगर निगम के मुलाज़िम आशीष कुमार रस्तोगी के मर्डर केस का खुलासा कर पुलिस ने इस मामले में दोनों मुल्ज़िमीन , आशीष की बीवी और उसके बहनोई को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि मुल्ज़िम खातून और उसके बहनोई ने कत्ल का जुर्म कबूल कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि दिल्ली नगर निगम के मुलाज़िम की बीवी ने अपने बहनोई के साथ मिलकर शौहर के कत्ल की साजिश रची। शादी से पहले ही आशीष की नीवी हेमा (बदला नाम) का अपने जीजा से नाजायज़ ताल्लुकात थे। पुलिस ने मामले में मुल्ज़िम धर्मेंद्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

इंस्पेक्टर आई. पी. सिंह ने बताया कि आशीष की बीवी का नाजायज़ ताल्लुकात उसके बहनोईधर्मेंद्र कुमार रस्तोगी के साथ थे, लेकिन हेमा की शादी जब आशीष से हो गई तो धर्मेंद्र को यह बात काफी नागवार गुजरी। मुल्ज़िम ने हेमा के साथ मिलकर मार्च में आशीष के कत्ल की साजिश रची।

मंसूबे के तहत आशीष को चाट में नशीला माद्दा खिलाया गया। बेसुध हो जाने के बाद उसके सिर पर हथौड़े से वारकर उसका कत्ल कर दिया गया और लाश को इंदिरा नहर में फेंक दिया।

पुलिस ने बताया कि कत्ल की गुत्थी सुलझाने के लिए उन्होंने धर्मेंद्र की कॉल डिटेल खंगाली तो उसके साथ आशीष की बीवी से बातचीत का सारा ब्यौरा सामने आ गया। इसके बाद पुलिस ने दोनों मुल्ज़िमो को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो सारी सच्चाई खुलती चली गई। उन्होंने बताया कि दोनों मुल्ज़िमो ने कत्ल करने की बात कुबूल ली है।

मुल्ज़िमधर्मेंद्र को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे पुलिस कस्टडी में जेल भेज दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT