Friday , December 15 2017

बहन की वलीमा तक़रीब में भाई का क़त्ल

हैदराबाद 06 अक्टूबर: पुराने शहर के इलाके भिवानीनगर में रात देर गए पेश आए सनसनीखेज़ वाक़िये में ख़ुसर ने दामाद का बीहमाना तौर पर क़त्ल कर दिया। ये वाक़िया उस वक़्त पेश आया जब भिवानीनगर तालाबकट्टा , अमाननगर बी में मुनाक़िदा वलीमा की तक़रीब में ख़ातियों ने ये वारदात अंजाम दी।

तफ़सीलात के बमूजब 30 साला मुहम्मद अहमद साकिन याक़ूतपूरा पेशे से पारचा ताजिर था। इस की मुख़ासमत ससुराली रिश्तेदारों से चल रही थी जिसके सबब उसने ख़ुसर और दुसरे ससुराली रिश्तेदारों से दूरी इख़तियार करली थी। बताया जाता हैके मुहम्मद अहमद और इस के ख़ुसर मुहम्मद सिराजुद्दीन के दरमयान शादी में दिए गए तिलाई जे़वरात और रक़म के सिलसिले में इख़तिलाफ़ात पैदा हो गए थे। मक़्तूल ने अपने चचाज़ाद बरादर-ए-निसबती के ख़िलाफ़ रैनबाज़ार पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई थी जिसमें ख़ंजर और दुसरे हथियार रखने का इल्ज़ाम आइद किया था। पुलिस ने मक़्तूल की दरख़ास्त को अदम शवाहिद की दस्तयाबी पर ख़ारिज कर दिया था।

पुलिस में कार्रवाई करने के बाद मुहम्मद अहमद और इस के ससुराली रिश्तेदारों के दरमयान मुख़ासमत में शिद्दत पैदा हो गई थी और सिराजुद्दीन और इस के दुसरे रिश्तेदारों ने दामाद को सबक़ सखाने का फ़ैसला किया। बताया जाता हैके मुहम्मद अहमद की बहन का वलीमा तक़रीब हिदायत फंक्शन हाल अमाननगर में मुनाक़िद हुई थी और मक़्तूल की मौजूदगी की इत्तेला पर मुहम्मद सिराजुद्दीन , नसीरुद्दीन , जमीलुद्दीन और ताजुद्दीन ने उसे निशाना बनाते हुए शादी ख़ाने की गेट के क़रिब ख़ंजर से हमला कर दिया जिसमें वो ज़ख़मी हो गया जबकि दो भाई मुकर्रम और अरशद भी ज़ख़मी हो गए। अहमद को मुक़ामी दवाख़ाना मुंतक़िल किया गया जहां पर डाक्टरों ने उसे मुर्दा क़रार दिया।

रात देर गए क़त्ल की वारदात के बाद भिवानीनगर इलाके में सनसनी फैल गई और भिवानीनगर पुलिस इंस्पेक्टर श्रीनिवास राव‌ मुक़ाम वारदात पर अपनी टीम के हमराह पहुंच गए। पुलिस ने ख़ातियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करते हुए उन्हें फ़ौरी हिरासत में ले लिया जहां पर उनकी तफ़तीश जारी है।

TOPPOPULARRECENT