Monday , December 18 2017

बहादुरी अवार्ड याफ़ता बच्चों की सदर जम्हूरिया से मुलाक़ात

नई दिल्ली 20 स्कूली बच्चे जिन्हें बहादुरी अवार्ड्स के लिए मुंतख़ब किया गया है, आज राष्ट्रपति भवन में सदर जम्हूरिया प्रण‌ब मुख़‌र्जी से मुलाक़ात करके उनसे तबादला-ए-ख़्याल किया और तस्वीरकशी करवाई।

नई दिल्ली

20 स्कूली बच्चे जिन्हें बहादुरी अवार्ड्स के लिए मुंतख़ब किया गया है, आज राष्ट्रपति भवन में सदर जम्हूरिया प्रण‌ब मुख़‌र्जी से मुलाक़ात करके उनसे तबादला-ए-ख़्याल किया और तस्वीरकशी करवाई।

क़ौमी बहादुरी अवार्ड्स का आला तरीन एज़ाज़ भारत अवार्ड रेशम फ़ातिमा साकिन उतरप्रदेश को हासिल हुआ। वो भी प्रणब मुख‌र्जी से मुलाक़ात करने वालों में शामिल थीं।

16 साला लड़की ने अपने चचा का मुक़ाबला किया था जो एक कार में उसकी इस्मत रेज़ि करने की कोशिश कररहा था और शादी की तजवीज़ मुस्तरद करने पर इस पर तेज़ाब डाल दिया था।

क़ब्लअज़ीं इस के चचा ने अग़वा किया था जबकि वो ट्यूशन क्लास के लिए जा रही थी। सदर जम्हुरिया ने बच्चों से मुलाक़ात की और उनके साथ तस्वीरकशी करवाई। इस साल का गीता चोपड़ा अवार्ड गुंजन शर्मा मुतवत्तिन आसाम को हासिल हुआ। 16 साला देवेश कुमार साकिन यूपी संजय चोपड़ा अवार्ड के लिए मुंतख़ब किया गया। अवार्ड हासिल करने वालों में 8 लड़कियां और 16 लड़के हैं। चार अवार्ड्स बादाज़ मर्ग दिए गए हैं।

TOPPOPULARRECENT