Sunday , December 17 2017

बांका सीट पर शिकस्त को लेकर राजद-जदयू में तकरार

बिहार एसेम्बली की दस सीटों के लिए हुए जिमनी इंतिखाबात में बांका सीट से राजद उम्मीदवार के भाजपा उम्मीदवार से महज़ 711 वोटों से शिकस्त होने पर राजद और जदयू के दरमियान तकरार और इल्ज़ाम तराशियों का दौर जारी है।

बिहार एसेम्बली की दस सीटों के लिए हुए जिमनी इंतिखाबात में बांका सीट से राजद उम्मीदवार के भाजपा उम्मीदवार से महज़ 711 वोटों से शिकस्त होने पर राजद और जदयू के दरमियान तकरार और इल्ज़ाम तराशियों का दौर जारी है।

बांका से राजद उम्मीदवार इकबाल हुसैन अंसारी भाजपा उम्मीदवार राम नारायण मंडल के हाथों 711 वोटों से शिकस्त हुये थे। उन्होंने अपनी हार के लिए रियासत के वजीरे सैयाहत और जदयू लीडर जावेद इकबाल अंसारी को जिम्मेवार ठहराते हुए उनपर अपने मुखालिफत में काम करने का इल्ज़ाम लगाया है।

जावेद ने इकबाल के इल्ज़ाम को बेबुनियाद करार देते हुए पीटीआई को बताया कि राजद उम्मीदवार उनके पुराने मुखालिफ हैं इसलिए वे उनपर उंगली उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बिना इत्तिहाद के इत्तिहादियों के तावून के क्या उनके लिए 47940 वोट हासिल कर पाना मुमकिन था।

जावेद ने राजद की तरफ से गलत उम्मीदवार का इंतिख़ाब किए जाने की बात करते हुए कहा कि अगर उनकी जगह किसी दूसरे को उम्मीदवार बनाया जाता तो वे आसानी से इंतिख़ाब जीत जाते।

साल 2010 में बांका से राजद के टिकट पर कामयाब हुए जावेद हाल में राजद छोडकर जदयू में शामिल हो गए थे। जावेद के राजद के सही उम्मीदवार का मुंतखिब नहीं किए जाने के बयान पर सवाल उठाते हुए राजद लीडर भगवान सिंह कुशवाहा ने कहा कि इत्तिहादियों की तरफ से किसको उम्मीदवार बनाया जाए किसे नहीं ,इसपर तबसीरह करना मुनासिब नहीं है।

TOPPOPULARRECENT