बाबरी मस्जिद की जगह पर नहीं सरयू किनारे बनाओ राम मंदिर- -शिवपाल यादव

बाबरी मस्जिद की जगह पर नहीं सरयू किनारे बनाओ राम मंदिर- -शिवपाल यादव

लखनऊ : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने केन्द्र और उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा ने देश को कमजोर किया है और वह लोकसभा चुनाव में सियासी फायदा लेने के लिये दंगा भड़काना चाहती है।

उत्तर प्रदेश के धरती पुत्र कहे जाने वाले समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी अपने छोटे भाई के साथ खड़े नजर आये।

रैली में भाषण देते हुए शिवपाल ने कहा कि, “अयोध्या में विवादित जमीन पर बाबरी मस्जिद की जगह पर मंदिर नहीं बनना चाहिए यदि राममंदिर बनाना है तो सरयू के किनारे बनाओ, लेकिन बाबरी मस्जिद की जगह पर मंदिर नहीं बनना चाहिए।”

उन्होंने कहा एक बार फिर साम्प्रदायिक शक्तियां फिर सिर उठा रही है, मुझे लगता है मुझे फिर से संघर्ष करना पड़ेगा।

शिवपाल ने अपनी पार्टी की पहली रैली, ‘जनाक्रोश महारैली’ को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘भाजपा ने देश को कमजोर किया है। हम भाजपा को देश और प्रदेश से हटाएंगे … हम शांति और भाईचारा चाहते हैं लेकिन सांप्रदायिक लोग दंगे भड़काना चाहते हैं।”

उन्होंने कहा कि वर्ष 1992 में तत्कालीन भाजपा सरकार द्वारा सुरक्षा की गारंटी का हलफनामा देने के बावजूद बाबरी मस्जिद को तोड़ दिया गया था। वह देश में फिर से वही आग फैलाना चाहती है। आज लोग मुसलमान का नाम लेने में घबराने लगे हैं।

शिवपाल ने कहा ,‘‘पिछली 25 नवम्बर को अयोध्या में ‘धर्म सभा’ के नाम पर माहौल खराब करने की कोशिश की गयी थी लेकिन प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के लोग सड़कों पर निकल पड़े थे कि हम अयोध्या में दंगा नहीं होने देंगे।”

उन्होंने कहा,‘‘वर्तमान की बेईमान, निकम्मी और झूठी सरकार को हटाने की आवश्यकता है। हम और नेता जी (सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव) मुसलमानों के साथ खडे़ हैं।

हम कर्मचारियों को पुरानी पेंशन भी देना चाहते हैं। वायदा करते हैं कि हम पुरानी पेंशन दिलाने का काम करेंगे। संविदाकर्मियों को भी समायोजित करने की दिशा में वह गंभीरता से प्रयत्न करेंगे।”

उन्होंने नारेबाजी के बीच आश्वासन दिया कि नौजवानों के लिए रोजगार की वह व्यवस्था करेंगे। रैली स्थल रमाबाई आंबेडकर मैदान पूरी तरह भरा हुआ था । मैदान के बाहर की सड़कों पर भी जनसैलाब उमड़ा था।

Top Stories